PM Modi Speech Live Updates : गरीबों को अब दिवाली-छठ तक मिलेगा मुफ्त राशन, जानिए पीएम मोदी के संबोधन की 5 बड़ी बातें - sach ki dunia

Breaking

PM Modi Speech Live Updates : गरीबों को अब दिवाली-छठ तक मिलेगा मुफ्त राशन, जानिए पीएम मोदी के संबोधन की 5 बड़ी बातें

pm narendra modi address to nation live streaming: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pm modi) ने मंगलवार शाम 4 बजे देश को संबोधित किया. देशभर की नजरें पीएम मोदी के संबोधन पर टीकी थीं. भारत आज दो-दो मोर्चों पर लड़ रहा है. जहां एक ओर चीन के साथ एलएसी (lac) पर तनाव की स्थिति बनी हुई है, वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस (coronavirus in india) का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. पीएम मोदी के संबोधन की हर बात के लिए बनें रहें हमारे साथ...

अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधित में कहा, अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड ‘one nation one ration card’. इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोजगार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गांव छोड़कर के कहीं और जाते हैं. आज गरीब को जरूरतमंद को सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है. पहला- हमारे देश के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता और दूसरा- हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के विस्तार से 90 हजार करोड़ रुपये का खर्च

पीएम मोदी ने कहा, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होंगे. अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपये हो जाता है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना का विस्‍तार नवंबर तक

प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना का विस्‍तार नवंबर के आखिर तक कर दिया गया है. 80 करोड़ लोगों को मुफ्त देने वाली योजना पांच महीने तक लागू रहेगी. गरीबों को 5 किलो चावल या गेहूं दी जाएगी. एक तरह से देखें तो, अमेरिका की कुल जनसंख्या से ढाई गुना अधिक लोगों को, ब्रिटेन की जनसंख्या से 12 गुना अधिक लोगों को और यूरोपियन यूनियन की आबादी से लगभग दोगुने से ज्यादा लोगों को हमारी सरकार ने मुफ्त अनाज दिया है. साथियों, हमारे यहां वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है. अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है. जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है. त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है. इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दिवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए.

जनधन योजना में 31 करोड़ रुपये गरीबों के खाते में डाले गये

पीएम मोदी ने कहा, बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपये जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये जमा हुए हैं.

देश को आगे और सतर्क रहने की जरूरत : पीएम मोदी

सरकारों को देश के नागरिकों को उसी तरह सर्तक रहने की आवश्‍यकता होगी. जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे, उनको समझाना होगा. एक देश के प्रधानमंत्री पर जुर्माना इसलिए लग गया क्‍योंकि उन्‍होंने बिना मास्‍क पहने सभा में चले गये थे. कोई भी नियमों से परे नहीं है. लॉकडाउन के दौरान देश की सर्वोच्‍च प्राथमिकता रही कि एक भी गरीब के घर का चुल्‍हा बंद न हो.

समय रहते लॉकडाउन लागू होने से कई लोगों की जान बची

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, समय रहते लॉकडाउन लागू होने व अन्य फैसलों से कई लोगों की जान बची, लेकिन अनलॉक- 1 शुरू होने के बाद लोगों में लापरवाही बढ़ी है.