मानसून में स्वाद ही नहीं इम्यूनिटी भी रहेगी दुरुस्त बस डाइट में शामिल कर लें ये 5 देसी चीजें - sach ki dunia

Breaking

मानसून में स्वाद ही नहीं इम्यूनिटी भी रहेगी दुरुस्त बस डाइट में शामिल कर लें ये 5 देसी चीजें

Monsoon herbal Diet to boost immunity:कोरोना महामारी के दौरान हर व्यक्ति इस बीमारी से बचने के लिए अपनी इम्यूनिटी पर जोर दे रहा है। बस कुछ ही दिनों में मानसून भी दस्तक देने वाला है। यह मौसम अपने साथ कई बीमारियां लेकर आता है। इस मौसम में अधिकांश बीमारियां व्यक्ति को खाने-पीने को लेकर की गई लापरवाही की वजह से होती हैं। इस मौसम में जिस व्यक्ति की इम्यूनिटी मजबूत है तो वो मौसम बदलने पर भी सर्दी, खांसी और वायरल जैसे रोगों से दूर रहता है। लेकिन जिन लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होती है वो बार-बार बीमार पड़ते हैं। रोग या बदलते मौसम में होने वाला कोई संक्रमण आपको तभी घेर सकता है जब आपकी इम्यूनिटी कमजोर होती है। आइए जानते हैं कैसे मानसून में इन देसी चीजों को शामिल कर आप भी बढ़ा सकते हैं अपनी इम्यूनिटी। 
अदरक-लहसुन को करें डाइट में शामिल-
यूं तो अदरक और लहसुन का सेवन हर मौसम में सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन मानसून में इनका सेवन करने से व्यक्ति कई मौसमी बीमारियों से लड़ने के लिए तैयार रहता है। लहसुन का उपयोग संक्रमणों से लड़ने, सूजन कम करने और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में एक औषधि के रूप में काम करता है।
 नींबू-
विटमिन सी से भरा होने के कारण यह फल तमाम तरह के संक्रमण से बचाता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी को भी बढ़ाता है।
 
हल्दी-
आपने यह तो सुना ही होगा कि नियमित रूप से हल्दी का सेवन करने से याददाश्त अच्छी होने के साथ व्यक्ति का मूड भी अच्छा बना रहता है। इसके अलावा हल्दी का सेवन करने से इम्यूनिटी बढ़ने के साथ वजन भी कम होता है। 
घर की बनी हर्बल चाय पिएं-
मानसून में अपनी इम्यूनिटी मजबूत बनाए रखने के लिए अपनी डाइट में हर्बल चाय या कड़ा जरूर शामिल करें। इसके लिए पानी में हल्दी, तुलसी, अदरक, लहसुन, दालचीनी, काला नमक जैसी सामग्री डालकर उसे उबाल लें। अब इसमें नींबू का रस और शहद भी मिला दें। यब हर्बल चाय आपकी इम्यूनिटी  को बढ़ाकर आपको रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करती है। 
पालक-
पालक में प्रचूर मात्रा में विटामिन सी और ए पाया जाता है। पालक के नियमित सेवन करने से इम्यूनिटी ठीक रहती है और व्यक्ति जल्दी-जल्दी बीमार नहीं पड़ता है।
नमक का सेवन-
बरसात की बूंदे जमीन पर गिरी नहीं कि घरों में लोग पकौड़ों की फरमाइश करने लगते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं अधिक तले हुए व्यंजनों में नमक की उपस्थिति आपके रक्तप्रवाह में सोडियम की मात्रा को बढ़ा सकती है, जिससे व्यक्ति को उच्च रक्तचाप की शिकायत हो सकती है। इसके अलावा, मानसून के दौरान नमक के अत्यधिक सेवन से शरीर में पानी की कमी और सूजन की भी समस्या देखने को मिल सकती है।