जबलपुर: तीन दिनों के भीतर करें आवेदनों का निराकरण—कलेक्टर - sach ki dunia

Breaking

Wednesday, September 4, 2019

जबलपुर: तीन दिनों के भीतर करें आवेदनों का निराकरण—कलेक्टर

गेहूं, धान और दलहनी फसलों का भुगतान प्राप्त न होने की किसानों की शिकायतों के निराकरण के लिए मंगलवार को कलेक्टर भरत यादव के निर्देश पर आयोजित की गई विशेष सुनवाई में 84 आवेदन प्राप्त हुए और इसमें से 12 का मौके पर ही निराकरण किया गया ।  जबकि शेष 72 आवेदनों के निराकरण की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है ।
      किसानों की भुगतान संबंधी शिकायतों के निराकरण के लिए कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित विशेष सुनवाई में स्वयं कलेक्टर भरत यादव भी मौजूद थे ।  उन्होंने किसानों से चर्चा करते हुए उनसे प्राप्त आवेदनों के शीघ्र निराकरण का भरोसा दिया ।  कलेक्टर भरत यादव ने विशेष सुनवाई में मौजूद उपार्जन व्यवस्था से जुड़े सभी अधिकारियों को स्थानीय स्तर पर निराकृत की जा सकने वाली शिकायतों का निराकरण तीन दिन के भीतर करने के निर्देश दिये ।
      कलेक्टर ने इस मौके पर किसानों के भुगतान संबंधी आवेदनों के निराकरण में विलंब करने वाले अधिकारियों, समिति प्रभारी एवं शाखा प्रबंधकों के विरूद्ध कार्यवाही की चेतावनी भी दी ।  उन्होंने कहा कि विशेष सुनवाई में प्राप्त हुए आवेदनों के निराकरण की दिशा में की जा रही कार्यवाही की नियमित रूप से समीक्षा भी की जायेगी ।
      जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के महाप्रबंधक पंकज गुप्ता के मुताबिक भुगतान संबंधी शिकायतों के निराकरण के लिए आयोजित की गई विशेष सुनवाई में किसानों से गेहूं का भुगतान न होने संबंधी 12 आवेदन प्राप्त हुए । इनमें से 11 आवेदनों का मौके पर ही निराकरण किया गया ।  पंकज गुप्ता के मुताबिक गेहूं के भुगतान से संबंधी निराकृत किये गये ये आवेदन होशंगाबाद जिले को भेजे गये गेहूं से संबंधित थे, जहां से स्वीकृति पत्र जारी हो चुके हैं । आगामी 72 घंटे के भीतर ईपीओ जारी होते ही किसानों के खाते में भुगतान की राशि जमा करा दी जायेगी । उन्होंने बताया कि एक आवेदन गेहूं का बोनस प्राप्त न होने से संबंधित था जिसका निराकरण शासन स्तर से बोनस की राशि जारी होने पर कर दिया जायेगा ।
      जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के महाप्रबंधक ने बताया कि कुल प्राप्त हुए 84 आवेदनों में से 31 आवेदन धान में कम राशि के भुगतान से संबंधित भी थे, जिनका निराकरण जेआईटी पोर्टल के माध्यम से प्रदेश के किसानों के साथ होना है । उन्होंने बताया कि विशेष सुनवाई में चना, मसूर एवं सरसों का भुगतान प्राप्त न होने के प्राप्त हुए 18 आवेदनों पर कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है । इन आवेदनों का निराकरण नेफेड से राशि प्राप्त होते ही कर दिया जायेगा ।
      किसानों को भुगतान न होने की शिकायतों के निराकरण के लिए आयोजित विशेष सुनवाई में अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, अपर कलेक्टर व्ही.पी. द्विवेदी तथा खरीदी केन्द्रों के आपरेटर, खरीदी प्रभारी, समिति प्रबंधक तथा उपार्जन व्यवस्था से जुड़े सभी विभागों के जिला अधिकारी मौजूद थे ।

No comments:

Post a Comment