जलसंकट से नगर सत्ता को सरोकार नहीं - sach ki dunia

Breaking

Tuesday, May 15, 2018

जलसंकट से नगर सत्ता को सरोकार नहीं

जबलपुर
शहर में छाए जलसंकट के विरोध में कांग्रेस ने मोर्चा खोलते हुए सिविक सेंटर स्थित जेडीए मैदान में धरना दिया। आंदोलन में दोपहर तक गिने-चुने नेता ही पहुंच सके थे और वरिष्ठ नेताओं का इंतजार किया जा रहा था। भीषण गर्मी में पानी पी-पी कर नगर सत्ता को कोस रहे कांग्रेस नेताओं ने कहा कि समय रहते जलसंकट दूर करने मेयर एवं जेएमसी प्रशासन ने कोई प्रयास नहीं किया जिससे एक बाल्टी पानी के लिए लोगों को तरसना पड़ रहा है।
धरना स्थल पर धीरे-धीरे बढ़ रही भीड़ के बीच कांग्रेस नेताओं ने मंच से जेएमसी अधिकारियों से लेकर केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमला किया। पूर्व विधानसभा के साथ रांझी क्षेत्र में पानी को लेकर मची किल्लत को दूर करने कांग्रेस ने निगम प्रशासन को चेतावनी दी कि यदि शीघ्र ही इन क्षेत्रों में पेयजल मुहैया नहीं कराया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रही बस्तियों में टैंकर पहुंचाने में भी भेदभाव किया जा रहा है। धरना में नगर अध्यक्ष दिनेश यादव, पूर्व विधायक लखन घनघोरिया, राममूर्ति मिश्रा, सम्मति सैनी, सौरभ नाटी शर्मा, मनोज नामदेव आदि उपस्थित थे

साफ दिखी गुटबाजी
शहरवासियों के लिए पेयजल की लड़ाई भी कांग्रेस एकजुट होकर नहीं लड़ पाई। धरना प्रदर्शन में भी गुटबाजी साफतौर पर देखी गई, जिससे कई बड़े नेताओं ने कन्नी काटी तो कई महज औपचारिकता कर निकल गए।

अपनों से घिरे रहे राहुल भैया
जबलपुर। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल जबलपुर आते ही सक्रिय हो गए। कल शाम आने के बाद उन्होंने कई ग्रुपों से चर्चा की। सर्किट हाउस की बजाय एक होटल में रुके अजय सिंह किसी प्रकरण पर कुछ वकीलों से भी मिले। इसके बाद कांग्रेस नेताओं से मिलने भी पहुंचे। वरिष्ठ पार्षद विनय सक्सेना को उन्होंने खास तवज्जो दी,वहीं मिलने वाले हर नेता को उन्होंने वही आत्मीयता दी, जिसके लिए वे जाने जाते हैं।
सब जुट जाओ काम में - राहुल सिंह ने कहा कि चुनाव नजदीक है, सारे लोग आपसी मतभेद भुलाकर काम में लग जाओ। उन्होंने कहा कि कमलनाथ के अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी में उत्साह का आलम है। दूसरी ओर भाजपा की रीति-नीति से परेशान जनता बदलाव चाह रही है। कांग्रेस नेताओं-कार्यकर्ताओं को चाहिए के वे माहौल का फायदा उठाएं।
स्वागत करने वालों की होड़ - नेता प्रतिपक्ष का स्वागत करने वालों की होड़ लगी रही। पार्षद विनय सक्सेना पूरे समय उनके साथ रहे। वरिष्ठ नेता राजेन्द्र यादव, गोविंद यादव, रमेश चौधरी, मुकेश राठौर, कामेश्वर शर्मा, दिलीप मिश्रा, टीकराम कोष्टा, सुकली यादव सहित अनेक नेताओं ने उनका स्वागत किया। सुबह वे दिवंगत नेता अशोक केशरवानी एवं वरिष्ठ नेता मुकेश राठौर के घर भी पहुंचे। यहां उन्होंने दुखी परिवार को सांत्वना दी।

No comments:

Post a Comment