लाडलियों की दमखम रही जलवेदार - sach ki dunia

Breaking

Monday, May 14, 2018

लाडलियों की दमखम रही जलवेदार

जबलपुर
माध्यमिक शिक्षा मंडल के 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम आज घोषित किए गए। परीक्षा परिणाम में एक बार फिर जबलपुर का डब्बा गोल हो गया है। जिले का 10वीं का रिजल्ट 65.62 तो12वीं का 73.65 प्रतिशत परिणाम आया है। संभाग के बालाघाट-नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा सहित अन्य जिलों के परिणाम बेहतर रहे। 12वीं स्टेट लेवल में दिव्यांग छात्र राजेश ओझा को छोड़ दिया जाए तो कोई भी बच्चा प्रदेश की प्रावीण्य सूची में स्थान हासिल नहीं कर पाया है। स्टेट लेवल की बात करें तो जबलपुर-05, कटनी 09, नरसिंहपुर 08, मंडला 06 डिंडोरी 04 छिंदवाड़ा 09  सिवनी 07 और बालाघाट जिले के 10 बच्चों ने टॉप टेन में स्थान हासिल किया।


पिछले बार से बेहतर आया परिणाम
हर बार की तरह इस बार भी लड़कियों ने बोर्ड परीक्षा परिणाम बाजी मार ली है। इसके साथ ही पिछले बार की अपेक्षा इस बार परिणामों में वृद्धि हुई है। पिछले साल 12वीं का  68.70 प्रतिशत  परिणाम तो इस बार 73.65 आया है। इसी तरह 10वीं  में पिछले साल 50.65 परिणाम जिसमें वृद्धि हुई,  इस साल का परीक्षा परिणाम 65.62 रहा।

एक नजर संभाग भर परिणामों में
12वीं.....
जबलपुर-73.65 प्रतिशत/ लड़कों का प्रतिशत 68.54 तो गर्ल्स का 76.66, मंडला-73.73 प्रतिशत/ लड़के 74.77 तो गर्ल्स का 72.83 प्रतिशत, नरसिंहपुर-45.84 प्रतिशत/ लड़के39.27 तो गर्ल्स 50.86 प्रतिशत, कटनी- 58.16 प्रतिशत/ लड़के57.56, गर्ल्स59.16 प्रतिशत, डिंडोरी- 54.92 प्रतिशत/ लड़के59.3 , गर्ल्स50.94 प्रतिशत, सिवनी-82.93 प्रतिशत/ लड़के79.89, गर्ल्स84.82 प्रतिशत, छिंदवाड़ा 77.23 प्रतिशत/लड़के73.28 गर्ल्स79.91 प्रतिशत, बालाघाट- 61.78 प्रतिशत/ लड़के60.05, गर्ल्स62.63 प्रतिशत
10वीं....
जबलपुर-65.62 प्रतिशत/ लड़कों का प्रतिशत 59.66 तो गर्ल्स का 71.66, मंडला-70.47 प्रतिशत/ लड़के 70.53 तो गर्ल्स का 70.41 प्रतिशत, सिवनी-71.25 प्रतिशत/ लड़के69.23, गर्ल्स72.91 प्रतिशत, बालाघाट- 67.56 प्रतिशत/ लड़के64.95, गर्ल्स69.62 प्रतिशत, डिंडोरी- 65.99 प्रतिशत/ लड़के68.62, गर्ल्स 63.61 प्रतिशत, छिंदवाड़ा- 71.26 प्रतिशत/ लड़के 64.35 गर्ल्स74.91 प्रतिशत, कटनी-65.16 प्रतिशत/ लड़के63.29, गर्ल्स66.64 प्रतिशत
नोट: नरसिंहपुर जिले का 10वीं का परीक्षा परिणाम बेवसाइट में ओपन नहीं हुआ।

12वीं कला समूह में स्टेट लेवल के बच्चे
’ उमावि उमरेठ छिंदवाड़ा स्कूल की कुमारी शिवानी पवार476 अंक के साथ पहला स्थान
’ उमावि उमरेठ छिंदवाड़ा करूणा यादव 460 अंक के साथ सातवां स्थान
’ देवमुरलीधर उमावि गोटेगांव ब्रजेश पटेल486 अंक के साथ तीसरा स्थान
’ एसीसी उमावि कैमौर कटनी ब्रजेश पटेल 478 अंक के साथ आठवां स्थान
’ ज्ञानोदय कान्वेंट उमावि तेंदुखेड़ा प्रेक्षा दुबे 477 अंक के साथ नौंवा स्थान
’ बहु उत्कृष्ट बालाघाट पुष्पांजलि बघेल 476 अंक के साथ दसवां स्थान
वाणिज्य समूह
’ सरस्वती उमावि गोटेगांव सोनम शर्मा, 467 अंक के साथ नौवा स्थान
’ भरत ज्योति उमावि मंडला गौरव पटेल 466 अंक के साथ दसवां स्थान
कृषि समूह
’ संकट मोचन सरस्वति छिंदवाड़ा अर्पित रघुवंशी 473 अंक के साथ चौथा स्थान
विज्ञान समूह
’ दादावाड़ी जैन उमावि बालाघाट दीपल जैन 479 अंक के साथ पहला स्थान
’ वैदिक कान्वेंट इंग्लिश मीडियम उमावि बालाघाट साक्षी पटले 475 अंक के साथ दूसरा स्थान
’ कन्या उमावि उकवा बालाघाट विनीता पांडे 472 अंक के साथ पांचवा स्थान
’ बहु उत्कृष्ट उमावि छिंदवाड़ा वसुंधरा सोमकुंवर 470 अंक के साथ सातवां स्थान

10वीं में स्टेट लेवल में टॉप टेन की सूची में
प्रशांत असाटी-
स्कूल-सरस्वती उमावि, पनागर
आगे- मैथ्स लेकर पढ़ाई करूंगा। कॅरियर के लिए कई रास्ते इससे आगे खुलेंगे।
अजय चक्रवर्ती -
स्कूल- सरस्वती शिक्षा मंदिर, मदनमहल
आगे- मैथ्स साइंस ग्रुप लेकर पढ़ाई करना है। इंजीनियरिंग की तैयारी करूंगा।
अलीसा बेहना -
स्कूल- शालिम हासे स्कूल, सिहोरा
आगे- बायोसाइंस ग्रुप लेकर डॉक्टर बनने की तमन्ना।
नावेद -
स्कूल- लज्जा शंकर झा मॉडल स्कूल, जबलपुर
आगे- मैथ्स से पढ़ाई करके आईएएस बनना है।
प्राची नंदेशरिया -
स्कूल- तान्या कान्वेंट स्कूल कटरा कालोनी, पाटन

आईएस की तैयारी करूंगा
12वीं में कला समूह के दिव्यांग छात्र राजेश ओझा स्टेट लेवल में स्थान प्राप्त किया। राजेश दृष्टि बाधित स्कूल धनवंतरी नगर का छात्र आगे आईएएस बनना चाहता है।

फैक्ट फाइल.....
10वीं प्राइवेट बच्चे-     6 हजार 353
पास हुए-        1 हजार 330
लड़कों की संख्या    635, गर्ल्स    695
परीक्षा का प्रतिशत     20.95 प्रतिशत
10वीं रेग्लुयर बच्चे-
23 हजार24 बच्चे बैठ परीक्षा में पास हुए लड़कों की संख्या-6 हजार914, गर्ल्स-8 हजार 193
परीक्षा में अनुत्तीर्ण-    5 हजार 24
पूरक-        2 हजार 290
12वीं...प्राइवेट
प्राइवेट बच्चे 1 हजार 386 बच्चे परीक्षा में शामिल हुए. पास हुए लड़कों की संख्या-178, गर्ल्स 253 कुल 431 पास हुए।
परीक्षा में अनुत्तीर्ण    695, पूरक आई256 की
12वीं रेग्युलर.....
3 हजार 983 बच्चे बैठे परीक्षा में  पास हुए 2 हजार 933 लड़कों की संख्या-1011, गर्ल्स की 1922

डॉक्टर बनना चाहता हंू: प्रियांश
सरस्वती स्कूल पनागर कक्षा 10वीं के छात्र प्रियांश चौबे ने परीक्षा में 95.6 प्रतिशत अंक हासिल प्रथम स्थान प्राप्त किया है। प्रियांश डॉक्टर बनना चाहता है। सफलता का श्रेय अपने पिता लक्ष्मीनारायण चौबे व माता सविता चौबे को दिया है।

No comments:

Post a Comment