शिक्षक दिवस-5 सितंबर पर शिक्षक वंदना - sach ki dunia

Breaking

Thursday, September 5, 2019

शिक्षक दिवस-5 सितंबर पर शिक्षक वंदना

शिक्षक तेरी वंदना,करता मैं दिन-रात ।
तुमने ही सौंपी मुझे,उजली यह सौगात ।।
तुम से ही सद् सोच है,तुम से ही है ज्ञान ।
तुमने ही जीना दिया,जीने का सम्मान ।।
शिक्षक तुम तो सूर्य हो,तुम में है अति ताप ।
तुम में है जो तेज वह,कौन सकेगा माप ।।
शिक्षक तुम शीतल पवन,तुम हो जल की धार ।
कल-कल कर बढ़ते रहो,हमको देने सार ।।
शिक्षक तुम अरदास हो,हो आरती-अजान ।
तुम प्रेयर,स्तुति-भजन,जन-गण-मन का गान ।।
शिक्षक तुम कल्याण हो,परमारथ का भाव ।
तुमने ही सौंपा मुझे,संघर्षों का ताव ।।
शिक्षक तुम आवेश हो,ग्रंथों का हो रूप ।
संतों के हो संत तुम,हर पल उजली धूप ।।
शिक्षक तुम बनकर गुरू,करते मम् उध्दार ।
करते हो सिरजन नवल,तुम तो रचनाकार ।।
कुंभकार का रूप हो,रखते हो नव शिल्प ।
कर देते हो शिष्य का,तुम तो कायाकल्प ।।
युग निर्माता,हे गुरू,तुम में है देवत्व ।
आभारी मैं हूं सदा,दिया मुझे शिष्यत्व ।।
 

No comments:

Post a Comment