साउथ एशिया में इस मामले में भी पाकिस्‍तान नाकामयाब साबित, WEF रिपोर्ट में बताए गए 'खराब हालात' - sach ki dunia

Breaking

Thursday, September 5, 2019

साउथ एशिया में इस मामले में भी पाकिस्‍तान नाकामयाब साबित, WEF रिपोर्ट में बताए गए 'खराब हालात'



इस्लामाबाद: भारत (India) और अन्‍य पड़ोसी देशों से लगातार अपने संबंध खराब रखने वाला पाकिस्‍तान (Pakistan) यूं तो कई मायनों में पिछड़ा मुल्‍क है, लेकिन एक शीर्ष फोरम की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि वह यात्रा और पर्यटन के मामले में भी दक्षिण एशिया (South Asia) में सबसे कम प्रतिस्पर्धी देश बना हुआ है. यानि पाकिस्‍तान पर्यटकों को लुभाने में बेहद पिछड़ा हुआ है और टूरिस्‍ट यहां आना सबसे कम पसंद करते हैं. यह बात वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम द्वारा प्रकाशित ट्रैवल एंड टूरिज्म कॉम्पिटिटिव रिपोर्ट में कही गई है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि यात्रा और पर्यटन की बात करें तो पाकिस्तान दक्षिण एशिया में सबसे कम प्रतिस्पर्धी देश बना हुआ है. रिपोर्ट में एशिया-प्रशांत यात्रा और पर्यटन (टीएंडटी) प्रतिस्पर्धात्मक सूचकांक 2019 रैंकिंग में पाकिस्तान को सबसे नीचे रखा गया है. पाकिस्तान ने इस वर्ष 2017 में 124 के मुकाबले 140 देशों में से 121 स्थान प्राप्त किया है.

रिपोर्ट में जोर देकर कहा गया है कि पाकिस्तान को अभी भी प्रतिस्पर्धा में काफी सुधार की आवश्यकता है ताकि रैंक और निचले चतुर्थक से बाहर जाया जा सके.

रिपोर्ट में बताया गया है कि जापान एशिया की सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी यात्रा और पर्यटन अर्थव्यवस्था है, जो वैश्विक स्तर पर चौथे स्थान पर है, जहां हाल ही में अंतरराष्ट्रीय पर्यटक आगमन और प्राप्तियों में उछाल देखा गया है. एशिया-प्रशांत में चीन अब तक की सबसे बड़ी यात्रा और पर्यटन अर्थव्यवस्था है और विश्व स्तर पर 13वां सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी देश है. वहीं, फिलीपींस ने इस मामले में सुधार दिखाया है. विश्व स्तर पर 75 वें स्थान पर रहने के साथ वह पायदान पर चार कदम आगे बढ़ा है.

No comments:

Post a Comment