औद्योगिक संगठनों और सरकार के समन्वित प्रयास से दूर किया जायेगा जबलपुर का औद्योगिक पिछड़ापन—आरिफ अकील - sach ki dunia

Breaking

Wednesday, July 3, 2019

औद्योगिक संगठनों और सरकार के समन्वित प्रयास से दूर किया जायेगा जबलपुर का औद्योगिक पिछड़ापन—आरिफ अकील

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ने की औद्योगिक संगठनों के पदाधिकारियों से चर्चा
प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवु मध्यम उद्यम तथा पिछड़ावर्ग एवं अल्पसंख्यक मंत्री श्री आरिफ अकील ने औद्योगिक रूप से जबलपुर के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए स्थानीय औद्योगिक संगठनों के साथ मिलजुलकर प्रयास करने की बात कही है ।
      श्री अकील आज यहां उद्योग भवन कटंगा में आयोजित बैठक में स्थानीय औद्योगिक संघों के प्रतिनिधियों से चर्चा कर रहे थे ।  उन्होंने बैठक में मौजूद औद्योगिक संघों के प्रतिनिधियों से जबलपुर के औद्योगिक विकास के बारे में अपने सुझाव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय को भेजने का आग्रह किया है ताकि उन पर विचार कर विधिवत कार्यवाही की जा सके ।
      सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ प्रदेश के तेजी से औद्योगिक विकास के पक्षधर हैं ताकि न केवल मध्यप्रदेश देश के उन्नत राज्यों में शामिल हो सकें बल्कि यहां आने वाली औद्योगिक इकाईयों में ज्यादा से ज्यादा युवाओं को रोजगार भी मिल सके ।  उन्होंने जबलपुर के औद्योगिक संगठनों से ऐसी इकाईयों को यहां लगाने में प्राथमिकता देने का आग्रह किया जिनमें अधिक से अधिक बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिया जा सके ।  श्री अकील ने औद्योगिक क्षेत्रों में स्थापित इकाईयों को संपत्ति कर से छूट देने की मांग पर कहा कि शासन स्तर पर जल्दी ही इस बारे में फैसला लिया जायेगा ।
      बैठक में औद्योगिक संघों के प्रतिनिधियों ने जबलपुर के औद्योगिक विकास के लिए कई सुझाव दिये ।  औद्योगिक संघों के प्रतिनिधियों ने शहर में संचालित छोटी-छोटी औद्योगिक इकाईयों के लिए अलग-अलग स्थानों पर मल्टीफ्लेटेड भवनों के निर्माण की आवश्यकता बताई ।  बड़े उद्योग जबलपुर में आयें इसके लिए यहां उपलब्ध सुविधाओं की मार्केटिंग का सुझाव भी दिया गया । नये औद्योगिक क्षेत्रों के विकास की जरूरत भी औद्योगिक संघों द्वारा बैठक में बताई गई । 
      बैठक में महाकौशल चेम्बर ऑफ कामर्स के रवि गुप्ता, जबलपुर चेम्बर ऑफ कामर्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हिमांशु खरे, प्लास्टिक उद्योग संघ के अध्यक्ष शंकर नाग्देव, श्री डी.आर. जेसवानी, जबलपुर मिष्ठान एवं नमकीन निर्माता संघ के हेमराज अग्रवाल, तथा महिला उद्यमियों के संगठन की प्रतिनिधि भी मौजूद थे ।  बैठक के प्रारंभ में संयुक्त संचालक आर.सी. कुरील ने बताया कि भारत सरकार से आज ही जबलपुर में मिष्ठान एवं नमकीन क्लस्टर की स्थापना की स्वीकृति प्राप्त हुई है ।  उन्होंने नेशनल टेक्नालॉजी सेक्टर की स्थापना को मंजूरी मिल जाने की जानकारी भी दी ।  श्री कुरील ने बताया कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम इकाइयों की स्थापना के लिए जबलपुर में डुमना एयरपोर्ट के नजदीक 50 एकड़ भूमि तथा मोहनिया में 20 एकड़ भूमि चिन्हित कर ली गई है । उन्होंने माढ़ोताल में एक्जीबिशन सेंटर की स्थापना की दिशा में हुई प्रगति के बारे में भी जानकारी दी ।
      बैठक में अपर कलेक्टर डॉ. सलोनी सिडाना, अपर आयुक्त नगर निगम रोहित कौशल, महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र देवव्रत मिश्रा भी उपस्थित थे ।

No comments:

Post a Comment