बेलगावी में बुर्के पर विवाद, बूथ पर रो पड़ी महिला वोटर - sach ki dunia

Breaking

Saturday, May 12, 2018

बेलगावी में बुर्के पर विवाद, बूथ पर रो पड़ी महिला वोटर

बेंगलुरु कर्नाटक विधानसभा चुनाव में 222 सीटों पर वोटिंग शुरू हो गई है. सुबह से पोलिंग बूथों पर मतदान के लिए लोगों की भीड़ दिख रही है. 224 विधानसभा सीटों वाले राज्य में 2 सीटों पर मतदान स्थगित कर दिया गया है.

कर्नाटक में 4.98 करोड़ से अधिक मतदाता हैं जो 2600 से अधिक उम्मीदवारों के बीच से अपने प्रतिनिधियों का चुनाव करेंगे. इन मतदाताओं में 2.52 करोड़ से अधिक पुरुष, करीब 2.44 करोड़ महिलाएं और 4,552 ट्रांसजेंडर शामिल हैं.
-बीजेपी सांसद राजीव चंद्रशेखर ने कोरामंगला में वोटिंग की.

-बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कर्नाटक की जनता से वोट की अपील की. शाह ने नव कर्नाटक के लिए वोटिंग का आह्वान किया.

-बेल्लारी में श्रीरामुलु ने वोटिंग के लिए जाने से पहले 'गौ-पूजा' की. श्रीरामुलु बादामी से सीट से मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के खिलाफ बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.'

-बेलगावी विधानसभा क्षेत्र के 185 नंबर पोलिंग बूथ पर मुस्लिम महिला से पहचान के लिए बुर्का उतारने के लिए कहा गया. जिसका महिला ने विरोध किया और वह रोने लगी.

-एचडी देवेगौड़ा हासन में वोटिंग से पहले प्राचीन श्री रंगनाथस्वामी मंदिर पहुंचे. उन्होंने कहा कि कर्नाटक में जेडीएस सरकार बनाएगी.


-हुबली में बूथ नंबर 108 पर खराबी के बाद बदली गई वीवीपैट मशीन.

-बादामी विधानसभा क्षेत्र में सुबह से ही पोलिंग बूथ पर लंबी कतारें लगी हुई हैं.

-गुलबर्गा दक्षिण में लोग वोटिंग के लिए पोलिंग बूथ पहुंचे.

-सदानंद गौड़ा ने भी वोटिंग की.

-शिकारीपुरा में वोट डालने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा. उन्होंने कहा कि वह 17 मई को सीएम पद की शपथ लेंगे.
-हम 150 से ज्यादा सीटों पर जीतेंगे और सरकार बनाएंगे: येदियुरप्पा

-कर्नाटक की जनता सिद्धारमैया सरकार से परेशान हो चुकी है: येदियुरप्पा

-मतदान शुरू होने से पहले येदियुरप्पा ने की पूजा
सिद्धारमैया ने की वोट की अपील

सिद्धारमैया ने ट्वीट में लिखा, 'हमारा कर्नाटक वोटिंग के लिए तैयार है. खासकर युवाओं से वोट करने की अपील है. पिछले पांच सालों के विकास कार्यों को आगे बढ़ाने और कर्नाटक को बेहतर बनाने और खुद के लिए वोट करें.'

राज्य में 55,600 से अधिक मतदान केंद्र बनाए गए हैं. कुछ सहायक मतदान केंद्र भी हैं. स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए 3.5 लाख से अधिक कर्मी चुनाव ड्यूटी पर तैनात किए गए हैं.

No comments:

Post a Comment