40% किराया वृद्धि पर अड़े बस मालिक, इंदौर में नहीं चलेंगी बसें - sach ki dunia

Breaking

Monday, May 21, 2018

40% किराया वृद्धि पर अड़े बस मालिक, इंदौर में नहीं चलेंगी बसें

भोपाल/इंदौर। राज्य सरकार ने रविवार को सार्वजनिक वाहनों (सभी प्रकार की अंतरराज्यीय बसों) के यात्री किराए में 10 प्रतिशत बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया है। बढ़े किराए की अधिसूचना जल्द ही राजपत्र में प्रकाशित की जाएगी। परिवहन विभाग के उप सचिव कमल नागर के मुताबिक, इसके बाद से यात्रियों को अधिक किराया देना पड़ेगा। 10 प्रतिशत किराया वृद्धि के बाद प्रदेश में हड़ताल को लेकर पसोपेश की स्थिति रही।

किराया बढ़ोतरी पर सहमति जताते हुए भोपाल के बस मालिकों ने हड़ताल स्थगित कर दी है। वहीं इंदौर में बस ऑपरेटर एसोसिएशन ने रविवार शाम बैठक बुलाई और सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला कायम रखा। हालांकि दूसरे कुछ संभाग हड़ताल नहीं करने के पक्ष में रहे। एसोसिएशन के अध्यक्ष ब्रजमोहन राठी के मुताबिक, इंदौर, उज्जैन और जबलपुर संभाग के अधिकांश जिलों के ऑपरेटरों ने हड़ताल पर जाने का फैसला किया है।

इंदौर से बसें नहीं चलने दी जाएंगी। तीन साल से किराए में वृद्धि नहीं हुई, जबकि डीजल की कीमतों में लगातर बढ़ोतरी हो रही है। खंडवा, खरगोन और आसपास के जिलों के बस मालिक भी हड़ताल में शामिल होंगे। यह है बस मालिकों की मांग हड़ताल पर आमादा बस मालिकों की मांग है कि यात्री किराया 10 प्रतिशत की बजाय 40 प्रतिशत तक बढ़ाया जाना चाहिए। मालूम हो, फरवरी में किराया निर्धारण बोर्ड की बैठक हुई थी, जिसमें बस मालिकों ने 40 प्रतिशत किराया बढ़ाने का प्रस्ताव रखा था। इस पर विचार करते हुए राज्य सरकार ने सभी प्रकार की यात्री बसों का किराया 10 प्रतिशत तक बढ़ाए जाने का निर्णय लिया।

महंगा होगा सफर

बसों का 10 प्रतिशत किराया बढ़ने से यात्रियों को अब इंदौर से भोपाल समेत प्रदेश के अन्य शहरों में यात्रा करना महंगा पड़ेगा। बढ़ा किराया सामान्य, डीलक्स और एसी सहित सभी प्रकार की यात्री बसों में देना होगा। इंदौरभोपाल के बीच सामान्य यात्री बस का वर्तमान किराया 180 रुपए है। बढ़ने के बाद 198 रुपए देना होंगे।

92 पैसे प्रति किमी के हिसाब से लगता है किराया

वर्तमान में यात्री बसों का किराया 92 पैसे प्रति किलोमीटर के हिसाब से लिए जा रहा है, जिसमें 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जा रही है। यानी अगर इंदौर से भोपाल का सामान्य बस का किराया 180 रुपए है तो इसमें 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होने के बाद अब 198 रुपए लगेंगे।

2014 में भी बढ़ाया गया था 15% किराया

राज्य सरकार ने साल 2014 में भी 15 प्रतिशत तक यात्री बसों का किराया बढ़ाया था। हालांकि कुछ दिन बाद डीजल के दाम कम होने पर 5 पैसे प्रति किलोमीटर किराया कम भी कर दिया गया था।

No comments:

Post a Comment