आसाराम के बाद अब उसके बेटे नारायण साईं की बारी, आज है पेशी - sach ki dunia

Breaking

Thursday, April 26, 2018

आसाराम के बाद अब उसके बेटे नारायण साईं की बारी, आज है पेशी

सूरत रेप केस में आसाराम को सजा होने के बाद अब उसके बेटे नारायण साईं को रेप के ही केस में कल कोर्ट में पेश होना है. सूरत की दो बहनों ने आसाराम और उसके बेटे नारायण साईं पर रेप का केस किया हुआ है. इसी केस में नारायण साईं की बुधवार कोर्ट में पेशी थी, लेकिन पुलिस ने सुरक्षा का हवाला देते हुए कोर्ट से गुहार लगाई थी कि नारायण साईं को गुरुवार को कोर्ट में पेश करने की उन्हें अनुमति दी जाए.

कोर्ट ने पुलिस की अर्जी स्वीकार कर ली और अब नारायण साईं को कल सूरत कोर्ट में पेश किया जाएगा. नारायण साईं सूरत की लाजपोर जेल में करीब 4 साल से बंद है. नारायण साईं और आसाराम के खिलाफ सूरत कि दो बहनों ने बलात्कार का आरोप लगाया है. इनमें से बड़ी बहन ने आसाराम पर रेप का आरोप लगाया है, जबकि छोटी बहन ने नारायण साईं पर रेप का आरोप लगाया है.
बुधवार को जोधपुर कोर्ट द्वारा आसाराम को रेप केस में दोषी करार दिए जाने और आजीवन कारावास की सजा सुनाए जाने के बाद सूरत की इन दोनों बहनों को भी उम्मीद जगी है और पूरा विश्वास है कि उन्हें भी न्याय जरूर मिलेगा.

नारायण साईं और आसाराम के खिलाफ सूरत की दो बहनों द्वारा दर्ज यह केस 10 साल पुराना है. पुलिस ने पीड़ित बहनों के बयान और लोकेशन से मिले सबूत के आधार पर यह केस दर्ज किया था. छोटी बहन ने अपने बयान में नारायण साईं के खिलाफ ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की है.

इस मामले में जैसे ही नारायण साईं के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई, वैसे ही नारायण साईं अंडरग्राउंड हो गया था. वह पुलिस से बचकर लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था. तत्कालीन सूरत पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने नारायण साईं को गिरफ्तार करने के लिए 58 अलग-अलग टीमें बनाई थीं.

एफआईआर दर्ज होने के करीब दो महीने बाद नारायण साईं हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तारी के वक्त नारायण साईं ने सिख व्यक्ति का भेष धर रखा था. खुद को कृष्ण का रूप बाताने वाले नारायण साईं की गिरफ्तारी के बाद उसके कृष्ण की तरह महिलाओं के बीच बांसुरी बजाने के कई वीडियो भी सामने आए.
यहां तक कि नारायण साईं ने गिरफ्तारी से बचने के लिए पुलिस वालों को 13 करोड़ रुपये की रिश्वत देने की भी कोशिश की. नारायण साईं से रिश्वत लेने के आरोप में एक पुलिस इंस्पेक्टर को बाद में गिरफ्तार भी किया गया. नारायण साईं मामले की जांच कर रहीं तत्कालीन एसीपी शोभा भूतड़ा ने पूरे मामले को उजागर किया था. बलात्कार के बाद पुलिस को रिश्वत देने का मामला भी नारायण साईं पर दर्ज हुआ है.

No comments:

Post a Comment