राहुल गांधी का बड़ा हमला, कहा- भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं, इसके साधन हैं पीएम मोदी - sach ki dunia

Breaking

Thursday, February 22, 2018

राहुल गांधी का बड़ा हमला, कहा- भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं, इसके साधन हैं पीएम मोदी

नई दिल्ली  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला करते हुए उन्हें भ्रष्टाचार का एक साधन बताया। कांग्रेस अध्यक्ष ने बुधवार को शिलॉंग में संवाददाताओं से कहा प्रधानमंत्री के जरिए भ्रष्टाचार होता है और वह करप्शन के एक इंस्ट्रूमंट हैं। राहुल ने कहा, 'नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार के खिलाफ नहीं हैं। वह भ्रष्टाचार के एक साधन हैं।' राहुल ने पंजाब नैशनल बैंक में अरबों के घोटाले और रफाल विमान सौदे पर प्रधानमंत्री की 'चुप्पी' पर भी निशाना साधा। 
साथ ही राहुल ने मोदी के उस ट्वीट पर भी पीएम को घेरा जिसमें वह मन की बात कार्यक्रम के लिए लोगों से सुझाव देने की अपील कर रहे हैं। राहुल ने मोदी के इस ट्वीट के जवाब में ट्वीट किया, 'मोदीजी, आपने पिछले महीने अपने एकालाप 'मन की बात' के लिए मेरी सलाह नहीं मानी। लोगों से सलाह क्यों मांग रहे हैं, जब आप आप दिल भी कहता है कि इस समय भारत का हर नागरिक नीरव मोदी की 22 हजार करोड़ रुपये की महालूट और 58 हजार करोड़ रुपये के रफाल घोटाले के बारे में आपसे सुनना चाहता है।' राहुल ने कहा, 'हम आपके उपदेशों की प्रतीक्षा कर रहे हैं।' 
इससे पहले मंगलवार को भी मेघालय में चुनावी रैली संबोधित करते हुए राहुल ने प्रधानमंत्री पर हमला करते हुए कहा था, 'मैं इनसे (नरेंद्र मोदी से) हम सभी की तरफ से आग्रह करना चाहता हूं कि जब अपनी कई विदेश यात्राओं में से एक पर अगली बार जाएं तो साथ में दूसरे (नीरव) मोदी को वापस लेते आएं।' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'एक देश के तौर पर हम सभी अपने खून-पसीने की कमाई वापस पाकर बहुत खुश होंगे।' 
उन्होंने प्रधानमंत्री और नीरव मोदी की तुलना करते हुए कहा, 'नीरव मोदी हीरे बेचता था, जो उसके दावे के अनुसार सपनों के बने होते हैं। कहा जा सकता है कि नीरव ने सरकार और कई लोगों को सपने बेचे। जब वह जनता की गाढ़ी कमाई लेकर जा रहा था, तब सरकार चैन से सो रही थी।' राहुल ने कहा, 'कुछ साल पहले एक अन्य मोदी (प्रधानमंत्री) ने भी भारत के लोगों को सपने बेचे थे। उन्होंने अच्छे दिन, सबके बैंक खातों में 15 लाख रुपये, दो करोड़ रोजगार और ना जाने क्या-क्या वादे किए थे।' 

गौरतलब है कि नीरव मोदी पीएनबी धोखाधड़ी का मामला सामने आने से पहले ही देश छोड़कर भाग गया। उस पर आरोप है कि उसने पंजाब नैशनल बैंक के कर्मचारियों से मिलीभगत करके 11,300 करोड़ से ज्यादा रुपये का घोटाला किया है। इस पर सत्ताधारी पार्टी बीजेपी और विपक्षी कांग्रेस एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment