12 साल की रेप विक्टिम को अबॉर्शन की मंजूरी, झारखंड सरकार उठाएगी सारा खर्च - sach ki dunia

Breaking

Monday, October 16, 2017

12 साल की रेप विक्टिम को अबॉर्शन की मंजूरी, झारखंड सरकार उठाएगी सारा खर्च

रांची. झारखंड हाईकोर्ट ने जमशेदपुर की 12 साल की रेप विक्टिम को अबॉर्शन की इजाजत दे दी है। बच्ची 23 हफ्ते से प्रेग्नेंट है। मंगलवार को रिम्स में डॉ. अनुभा विद्यार्थी की देखरेख में बच्ची का अबॉर्शन किया जाएगा। रिम्स मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट मिलने के बाद इस मामले पर सुनवाई के लिए रविवार शाम साढ़े 6 बजे स्पेशल कोर्ट बैठी और उसने फैसला लिया। बच्ची के सेहतमंद होने तक पूरा खर्च सरकार वहन करेगी...
- जस्टिस रंगन मुखोपाध्याय की कोर्ट ने रिपोर्ट देखने के बाद अबॉर्शन कराने का आदेश दिया। जमशेदपुर एसएसपी से कहा कि सोमवार सुबह बच्ची को रिम्स में एडमिट कराएं।
- हाईकोर्ट ने कहा, "बच्ची को लाने-ले जाने और घर वालों के रहने का अरेंजमेंट सरकार करे। साथ ही बच्ची के स्वस्थ होने तक उसके इलाज का पूरा खर्च भी वहन करे।"
मेडिकल बोर्ड ने विक्टिम से भी बात की
- इससे पहले विक्टिम को लेकर उसकी मां, वकील ममता सिंह और हेल्थ डिपार्टमेंट के नोडल अफसर उमेश श्रीवास्तव रिम्स पहुंचे।
- दोपहर साढ़े 12 बजे रिम्स की मेडिकल बोर्ड बैठी। दो घंटे जांच चली। पीड़िता का अल्ट्रासाउंड और एक्सरे किया गया। एमजीएम अस्पताल की रिपोर्ट देखी। विक्टिम से भी बातचीत की। फिर सीलबंद रिपोर्ट हाईकोर्ट को सौंप दी।
-रिम्स अधीक्षक डॉ. एसके चौधरी की अगुआई में गठित मेडिकल बोर्ड में मेडिसिन एचआेडी डॉ. आरके झा, गायनिक एचओडी डॉ. अनुभा विद्यार्थी, रेडियोलॉजी एचओडी डॉ. सुरेश टोप्पो और एफएमटी के डॉ. संजय कुमार शामिल थे।
ट्रैवल एजेंसी के ड्राइवर पर रेप का आरोप
- बच्ची की मां ने हाईकोर्ट से बेटी के अबॉर्शन की इजाजत मांगी थी। पिटीशन में कहा था कि जब वह और उसके पति काम पर चले जाते थे तो ट्रैवल एजेंसी में ड्राइवर उदय गगरई उसकी बेटी से रेप करता था। ड्राइवर बच्ची को धमकी भी देता था कि किसी को इस बारे में बताया तो पिता को मार डालूंगा।
30 अगस्त को दर्ज कराई गई थी FIR
- इस संबंध में जमशेदपुर के सिदगोड़ा थाने में 30 अगस्त को एफआईआर दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने मेडिकल जांच कराई तो बच्ची के प्रेग्नेंट होने की बात सामने नहीं आई। बाद में पेट दर्द की शिकायत पर जब उसे अस्पताल ले जाया गया तो पता चला कि वह 22 हफ्ते से प्रेग्नेंट है।
- मां की पिटीशन पर शनिवार को हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने रिम्स को मेडिकल बोर्ड बनाकर जांच करने और रविवार को रिपोर्ट सौंपने को कहा था।

No comments:

Post a Comment