प्रातः उठते ही सबसे पहले नियम पूर्वक करें यह काम, हर कार्य में मिलेगी सफलता - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

प्रातः उठते ही सबसे पहले नियम पूर्वक करें यह काम, हर कार्य में मिलेगी सफलता



धर्म शास्त्रों के अनुसार, व्यक्ति की दिनचर्या उसके कर्म फल भी निर्धारित करती हैं। अगर दिन की शुरुआत कुछ नियमों के साथ की जाती है, तो पूरे दिन शुभ फलों की प्राप्ति होती है। नियमों के अनुसार, व्यक्ति को प्रतिदिन स्नान करना चाहिए। इसके साथ ही साफ-सुथरे वस्त्र धारण करके पूजा-पाठ करनी चाहिए। लेकिन एक ऐसा कार्य है जिसे उठते ही सबसे पहले करना चाहिए। इसके बाद ही अन्य काम करने चाहिए। शास्त्रों के अुसर माना जाता है कि उठते ही सबसे पहले अपनी हथेलियों को देखते हुए एक मंत्र पढ़ना चाहिए। ऐसा करने से जीवन में आ रहे कष्टों के साथ कार्यों में आ रही बाधाओं से छुटकारा मिल जाएगा। आइए जानते हैं कि सुबह उठते ही क्या करना चाहिए।
शास्त्रों के अनुसार, व्यक्ति सुबह उठते ही सबसे पहले अपनी हथेलियों को एकसाथ जोड़कर दर्शन करे। इसके साथ ही इस मंत्र का उच्चारण करें। आप चाहे तो इस मंत्र का एक बार या फिर अधिक बार उच्चारण कर सकते हैं।
मंत्र- 'कराग्रे वसति लक्ष्मीः, कर मध्ये सरस्वती।
करमूले तू ब्रह्मा, प्रभाते कर दर्शनम्।।'
इस श्लोक का मतलब है कि हथेलियों के अग्रभाग में मां लक्ष्मी, मध्य भाग में विद्या देने वाली देवी सरस्वती और मूल भाग में भगवान गोविंद यानी ब्रह्मा का निवास है। सुबह के समय मैं इनका दर्शन कर रहा हूं। इस मंत्र का उच्चारण करने करने के बाद हथेलियों को अपने मुंह में अच्छी तरह से फेर लें। ऐसा करने से आप दिनभर ऊर्जा से भरपूर रहेंगे और अपने अंदर पॉजिटिव एनर्जी महसूस करेंगे। माना जाता है कि सुबह-सुबह इस मंत्र का जाप करने से सभी देवी देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है, जिससे हर काम में सफलता प्राप्त होती है। इसके बाद आप जमीन में पैर रखने से पहले धरती के चरण जरूर छुएं। क्योंकि धरती मां ही हमारा पूरा भार अपने ऊपर लेती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें