MP सरकार का अब गाय पर फोकस! CM शिवराज ने टैक्स लगाने समेत किए कई बड़े ऐलान - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

MP सरकार का अब गाय पर फोकस! CM शिवराज ने टैक्स लगाने समेत किए कई बड़े ऐलान



भोपालः मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार अब गायों पर फोकस करने जा रही है. बता दें कि प्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सरकारी कार्यालयों में गौ फिनाइल का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही सरकार प्रदेश भर में 2200 गौशालाएं खोलने पर भी विचार कर रही है. सरकार पर्यटन की लिहाज से भी गायों को लेकर योजना बनाने पर काम कर रही है.

टैक्स लगाएगी सरकार
मध्य प्रदेश सरकार बड़ा फैसला लेते हुए गायों की घास, चारे के लिए टैक्स लगाने पर भी विचार कर रही है. सीएम शिवराज ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इसे लेकर योजना बनाएं. माना जा रहा है कि सरकार अन्य वस्तुओं पर सेस लगा सकती है और फिर उस पैसे से गायों के चारे की स्थाई व्यवस्था की जा सके. गौ-पालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड की समीक्षा बैठक के दौरान सीएम शिवराज ने अफसरों को निर्देश देते हुए ये बातें कहीं.

ये है सरकार की योजना
बता दें कि प्रदेश की 20वीं संगणना के अनुसार, राज्य में 1 करोड़ 87 लाख 50 हजार गौवंश हैं. सरकार ने जबलपुर जिले के गंगईवीर में गोवंश वन विहार की स्थापना करने के निर्देश भी दिए हैं. सालरिया गौ अभ्यारण्य को देश का आदर्श अभ्यारण्य बनाने की योजना पर भी सरकार काम कर रही है. गौअभ्यारण्य को गौ-पर्यटन का केंद्र बनाया जाएगा. इसके लिए पर्यटन विभाग ने काम भी शुरू कर दिया है.

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में 2200 गौशालाएं बनाने की सरकार की योजना है. गौशालाओं के संचालन का काम समाजसेवी संस्थाओं को सौंपा जाएगा. बता दें कि शिवराज सरकार लंबे समय से गौ टैक्स लगाने पर विचार कर रही है. सरकार ने गौ कैबिनेट का भी गठन किया था. इससे पहले गौ कैबिनेट की बैठक के दौरान सीएम शिवराज ने हर आंगनवाड़ी में गाय का दूध उपयोग में लेने की बात भी कही थी.

सियासत शुरू

अब इस मुद्दे पर सियासत शुरू हो गई है. दरअसल प्रस्तावित गौ ग्रास टैक्स लगाने का कांग्रेस ने विरोध शुरू कर दिया है. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा गौ माता पर सिर्फ सियासत कर सकती है. कांग्रेस सरकार में गौ माता के चारे के लिए अनुदान बनाया गया था. बीजेपी की सरकार बनते ही गौ चारे के अनुदान में भारी कमी की गई. जिससे चारे के अभाव में भूख से गायों की मौत हुई. अब सरकार गौ चारे के लिए टैक्स लगाने की तैयारी में है.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें