नगर निगम जबलपुर के सफाई अभियान की खुली पोल - sach ki dunia

Breaking

Thursday, July 4, 2019

नगर निगम जबलपुर के सफाई अभियान की खुली पोल


जबलपुर। जर्जर और तमाम जगह खुदी पड़ी सड़कें, खुले और कई मार्गों पर बीच रोड ऊंचे-नीचे चेम्बर बारिश में हादसों का सबब बन गए हैं। शहर के कई इलाकों में डाली जा रहीं सीवर एवं ड्रेनेज की लाइनों का बरसात आने तक मिलान नहीं हो पाने से मंगलवार को हुई झमाझम बरसात ने आम लोगों को परेशानियों में डाल दिया है। साथ ही लगातार पिछड़ते नाला सफ ाई के काम का खामियाजा भी शहर की जनता को भुगतना पड़ा है। उफान में नाला-नाली आने के कारण सड़कों पर पानी जमा हो गया, जिसके कारण लोग परेशान होते रहे। 

दरअसल निगम प्रशासन का लचर रवैया जारी रहने से मानसून सिर पर आने तक बारिश के लिहाज से जरुरी कामकाज का शहर भर में बुरा हाल है। बरसाती मौसम को देखते हुए बदहाल सड़कों को दुरुस्त करने और नाला सफ ाई कराने जैसे बुनियादी मामलों का बुरा हाल है। शहर में बुनियादी जरुरतों के मामले में निगम के इस गैर जिम्मेदाराना रवैए को लेकर आम जनता के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों के माथे पर भी चिंता की लकीरें गहराती जा रही हैं।

खास बात ये है कि इस सबके लिए जिम्मेदार नगरनिगम अमले के मुखिया निगमायुक्त ने पिछले दिनों भरी बैठक में शहर के सभी नाले साफ होने की बात कही थी। वहीं जो मैदानी हकीकत है उसके मुताबिक निगम सीमा के करीब एक तिहाई नाले अब तक गंदगी से पटे पड़े हैं। जिसका उदाहरण शहर के विभिन्न क्षेत्रों में भरे पानी से लगाया जा सकता है। 
हो रहे हादसे-
शहर के आधे से अधिक क्षेत्र में लाईन डालने के लिए की गई खुदाई के कारण बड़े-बड़े गड्ढों के अलावा बीच रास्ते में पसरे भारी पत्थर और बोल्डर्स के कारण रात-दिन हादसे हो रहे हैं। वहीं बरसात होते ही सड़क घसकने से वाहन फं सकर क्षतिग्रस्त होने हो रहे हैं। 
हादसों का सबब बनते ऊंचे-नीचे चेंबर
शहर के तमाम इलाकों में खुले पड़े सीवर मैनहोल्स के अलावा बड़ी तादात में ऊंचे-नीचे चे बरों को अगर जल्द दुरस्त नहीं किया गया है। बरसाती पानी में डूबने पर हादसों का सबब बन गए हैं । यह स्थिति शहर के प्रमुख मार्गों पर काफ ी समय से है, जबकि रामपुर क्षेत्र के हालात तो और भी बुरे हंै। इस सिलसिले में ग्रामीण क्षेत्र के वार्डों के पार्षदों ने बीते रोज महापौर को इस गंभीर समस्या से अवगत कराते हुए कड़ी नाराजगी भी जताई है, लेकिन हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। 
यह हैं शहर के नालों की स्थिति-
शहर में कुल नाले - 1280
बड़े नाले - 05
मंझौले नाले - 125
छोटे नाले - 1150

No comments:

Post a Comment