छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सली हमले में 12 CRPF जवान शहीद, पीएम मोदी ने राजनाथ सिंह से की बात - sach ki dunia

Breaking

Saturday, March 11, 2017

छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सली हमले में 12 CRPF जवान शहीद, पीएम मोदी ने राजनाथ सिंह से की बात

नई दिल्ली:  
छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर क्षेत्र में पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 12 जवान शहीद हो गए। जबकि 4 अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हैं। सुकमा में हुए मुठभेड़ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख प्रकट किया है और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बातचीत कर स्थिति की जानकारी ली। गृहमंत्री राजनाथ सिंह सुकमा का दौरा करेंगे।
घायल जवानों को बेहतर उपचार के लिए हेलीकॉप्टर से रायपुर ले जाया जा रहा है। क्षेत्र में मुठभेड़ जारी है और आसपास के इलाकों में नाकेबंदी कर दी गई है। नक्सली, जवानों के ग्यारह एसएलआर हथियार भी लूट कर ले गए हैं। शहीदों में कोबरा बटालियन का एक सहायक उपनिरीक्षक भी शामिल है।
बस्तर रेंज के प्रभारी पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी. ने यहां बताया कि शनिवार सुबह सुकमा जिले के भेज्जी थाने से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कोबरा 219 बटालियन के जवान रोड ओपनिंग पार्टी के लिए रवाना हुए थे। जवान जब कैंप से लगभग दो किलोमीटर दूर बुंदेरपारा के पास पहुंचे, वे घात लगाकर बैठे नक्सलियों द्वारा घिर गए।
अचानक नक्सलियों द्वारा फायरिंग शुरू कर दी गई। लगभग दो घंटे तक चली गोलीबारी में कोबरा बटालियन के ग्यारह जवान शहीद हो गए और चार जवान घायल हो गए।
उन्होंने बताया कि घायल जवानों को लाने के लिए हेलीकॉप्टर रवाना किया गया है और उनका बेहतर उपचार रायपुर में किया जाएगा। शहीद जवानों के पार्थिव शरीर भेज्जी थाने में लाए जा चुके हैं।
इलाके में तलाशी जारी है और महाराष्ट्र-आंध्र इलाके में नाकेबंदी कर दी गई है। सीमावर्ती इलाके के अधिकारियों से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं।
शहीद जवानों में सहायक उपनिरीक्षक हीरालाल जांगड़े, आरक्षक नरेन्द्र कुमार सिंह, मंगेश पाण्डे, रामपाल सिंह यादव, गोरखनाथ, नंदकुमार अतरम, सतीश चंद्र वर्मा, के. शंकर, वी. आर. मंदे, जगजीत सिंह एवं सुरेश हैं वहीं जगदीश प्रसाद निसोड़े, जयदेव परमाणिक, मो. सलीम घायल हैं। चौथे जवान की शिनाख्त नहीं हुई है।
प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी, उन्होंने शहीद परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

No comments:

Post a Comment