कड़ाके की सर्दी से लोगों को मिली राहत.. - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

कड़ाके की सर्दी से लोगों को मिली राहत..



भोपाल | मध्यप्रदेश में बीते दस दिनों से पड़ रही सर्दी से अब हल्की राहत मिली है। हवाओं का रुख बदलने से तापमान उछल रहा है। संभावना ये भी जताई जा रही है कि 24 जनवरी के बाद प्रदेश में कई इलाकों में बादल छाएंगे। 24 जनवरी को भोपाल, ग्वालियर, चंबल, सागर संभागों के जिलों में वर्षा होने की भी संभावना है। उसके बाद फिर कड़ाके की सर्दी पड़ सकती है।मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक बीते 24 घंटे के दौरान प्रदेश में मौसम शुष्क रहा।

न्यूनतम तापमान शहडोल संभाग के जिलों में विशेष रूप से बढ़े। सागर, नर्मदापुरम, उज्जैन, इंदौर और भोपाल संभागों के जिलों में काफी बढ़े। नर्मदापुरम संभाग के जिलों में सामान्य से अधिक रहे। प्रदेश का सबसे ठंडा ग्वालियर रहा। अगले 24 घंटों में भी मौसम शुष्क रहेगा।मौसम विभाग के आंकड़ों की बात करें तो तापमान एकबार फिर उछाल भरने लगा है।साढ़े चार डिग्री तक पारा ऊपर गया है।

प्रदेश में सबसे ठंडा ग्वालियर रहा। ग्वालियर में 4.1, रीवा में 4.6, खजुराहो में 5.5, नौगांव में 5.9, रायसेन में 6.6, उमरिया में 8.1, गुना-सीधी में 8.4, राजगढ़-सतना में 9, दमोह-जबलपुर में 9.2, रतलाम में 9.4 डिग्री न्यूनतम तापमान रहा।मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार प्रदेश में हवाओं का रुख बदल गया है।दक्षिणी रुख होने के कारण रात के तापमान में काफी बढ़ोतरी हो गई है।

पिछले 10 दिनों से पड़ रही कड़ाके की ठंड से थोड़ी राहत है। 24 जनवरी से बादल छाने की भी संभावना है।जानकारों की मानें तो वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान और उससे लगे पंजाब पर ट्रफ के रूप में बना हुआ है। एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ भी ट्रफ के रूप में अफगानिस्तान और उससे लगे पाकिस्तान पर बना हुआ है। इसके अतिरिक्त ओडिशा के पास एक प्रति चक्रवात बना हुआ है। इन तीन वेदर सिस्टम के असर से हवा का रुख दक्षिणी हो गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें