पानी सेहत के लिए अच्छा है, मगर एक दिन में कितने गिलास ही पीना चाहिए? - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

पानी सेहत के लिए अच्छा है, मगर एक दिन में कितने गिलास ही पीना चाहिए?



अक्सर आपने सुना होगा कि पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद होता है. भरपूर मात्रा में पानी पीने से कई रोग दूर होते हैं और आपको कई बीमारियों से लडऩे में शक्ति मिलती है. लेकिन, कई बार हम सेहत के लिए लाभदायक मानकर जरूरत से ज्यादा पानी पी लेते हैं, जो कि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी सिद्ध हो जाता है. इसलिए आपको अपने शरीर की जरूरत के हिसाब से ही पानी पीना चाहिए और अगर उस हिसाब से पानी पीएंगे तो यह आपके लिए दवा का काम करेगा.


ऐसे में जानते हैं कि आपकी सेहत के लिए कितना पानी पीना आवश्यक है और ज्यादा पानी पीने के क्या नुकसान हो सकते हैं. साथ ही जानते हैं पानी पीने से जुड़े कुछ और भी नियम, अगर आपका उनका ध्यान रखेंगे तो आपको पानी से काफी फायदा होगा.

आपके शरीर के लिए कितना पानी है जरूरी?
यूएस नेशनल अकेडमिक्स ऑफ साइंस, इंजीनियरिंग एंड मेडीसिन के अनुसार, एक महिला की बॉडी को हर दिन 11.5 कप पानी की आवश्यकता होती है, जो करीब 2.7 लीटर होता है. वहीं, एक पुरुष को 15.5 कप पानी की आवश्यकता होती है, जिसका मतलब है कि आपके शरीर को हर दिन करीब 3.7 लीटर की आवश्यकता है.


ऐसे में इंसान को इस हिसाब से ही पानी पीना चाहिए. इसमें भी आपको इसमें कुछ हिस्सा कई अन्य चीजों से मिल जाता है. आपके शरीर में पानी की कुछा मात्रा चाय, ज्यूस और खाने से भी पूरी हो जाती है. माना जाता है कि आप पानी की 20 फीसदी पूर्ति खाने के लिए जरिए पूरी कर लेते हैं.

जरूरत इन चीजों पर करती है निर्भर
लेकिन, ऐसा नहीं है कि ऊपर बताई गई जरूरत हर शरीर के लिए एक ही है. यह हर शरीर पर निर्भर करती है और उनके खानपान, लाइफस्टाइल, जलवायु पर भी काफी चीजें निर्भर करती हैं. रिपोर्ट के अनुसार, आप कहां रहते हैं, आप किस तापमान में रहते हैं, आप किस पर्यावरण में रह रहे हैं, आप कितने एक्टिव हैं, आप सेहत, प्रेग्नेंसी आदि पर भी पानी की मात्रा निर्भर करती है. साथ ही इन परिस्थितियों के हिसाब से आपके पानी की जरूरत भी कम ज्यादा होती रहती है.


ज्यादा पानी पीने से है नुकसान?
दरअसल, जरूरत से ज्यादा पानी पीने के भी कई तरह के नुकसान होते हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार, ज्यादा पानी पीने से शरीर में सोडियम की मात्रा प्रभावित होती है और इलेक्ट्रॉल की मात्रा कम हो जाती है. साथ ही पानी की ज्यादा मात्रा से डायबिटीज, हार्ट की बीमारी की खतरी, हार्मोंस पर प्रभाव होने का डर बना रहता है. ऐसे में शरीर की जरूरत के हिसाब से पानी पीना चाहिए.

No comments:

Post a Comment