अब किसान खेती छोड़कर बजाएंगे DJ, जानें क्या है पूरा मामला - sach ki dunia

Breaking

अब किसान खेती छोड़कर बजाएंगे DJ, जानें क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली। शादियों और पार्टियों मे डीजे बजाते तो आमतौर पर सभी ने देखा होगा लेकिन अगर यहीं डीजे खेतों में बजने लगे तो सोचिए क्या होगा। गाजियाबाद के किसान अब खेती छोड़ डीजे बजाने का काम पकड़ रहे हैं। जानकर हैरान मत होइए क्योंकि इसके पीछे भी बड़ा कारण है और वो काऱण है टिड्डियों का खेतों में आतंक मचा देना। पड़ोसी राज्य हरियाणा में टिड्डियों ने काफी तहलका मचा दिया है जिसके बाद गाजियाबाद जिला प्रशासन ने किसानों को इससे बचने का एक तरीका बताया है। टिड्डी दल खेत को ज्यादा नुकसान न पहुंचाए इसके लिए प्रशासन ने किसानों को तेज आवाज में डीजे बजाने की सलाह दी है। तेज आवाज में डीजे बजाने से टिड्डी दल भाग जाएगा। 
बता दें कि इन टिड्डियों ने पड़ोसी देश पाकिस्तान की नाक में भी दम कर रखा है जिसके लिए इमरान सरकार ने राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दी है। बीते कई दशकों से पाकिस्तान को बुरे कीट हमले का सामना करना पड़ रहा है। गाजियाबाद जिला प्रशासन का दावा है कि पाकिस्तानी टिड्डी दल राजस्थान और पंजाब के सीमावर्ती जिलों से भारत में प्रवेश कर रहा है। ऐसे में यह डर भी है कि गाजियाबाद में भी टिड्डी दल न आ जाएं। डीएम डॉ. अजय शंकर पांडेय ने एडवाइजरी जारी कर किसानों को टिड्डी दल के बारे में जानकारी देने के निर्देश दिए हैं। किसानों को बताया जाएगा कि टिड्डी दल उनके खेतों को नुकसान पहुंचा सकता है। उन्हें इससे निपटने के लिए तरीकें बताएं जाएंगे।
 
डीजे के अलावा किसानों को दिए गए ढोल, नगाड़े बजाने के निर्देश 
बढ़ते टिड्डी दल से बचने के लिए किसानों को डीजे के अलावा ढोल, नगाड़े और थाल बजाने या उंची आवाज में शोर मचाने के निर्देश दिए गए हैं। एडवाइजरी के मुताबिक तेज शोर और आवाज के जारिए टिड्डियों को भगया जा सकता है। साथ ही खेत के चारों ओर नालियां बनाने के भी निर्देश दिए हैं। हो सके तो किसान ज्यादा से ज्यादा कीटनाशक दवाओं का छिड़काव करें इससे खेत को कम नुकसान पहुंचेगा।