जबलपुर: पुलिस अधीक्षक का सराहनीय कदम, रात में दुकाने बंद! मतलब बंद - sach ki dunia

Breaking

Tuesday, July 16, 2019

जबलपुर: पुलिस अधीक्षक का सराहनीय कदम, रात में दुकाने बंद! मतलब बंद

लगातार मिल रही शिकायतों के मद्देनजर जबलपुर में पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने सराहनीय कदम उठाया है जिसके कारण अब रात भर खुले रहने वाली दुकाने बंद हो रही है. अधीक्षक के कड़े निर्देशों पर स्थानीय पुलिसकर्मी भी उन दुकानों को बंद करा रहे है जो उनके रहमो करम से रात भर खुली रहती थी. कहा जाता है की इन दुकानों की वजह से रात में अपराधों को बढ़ावा मिल रहा था. सूत्र बताते है की दमोह नाका पर रात भर खुली रहने वाली होटल मुन्ना, गंगोत्री, अभिजित होटल और मनमोहन होटल पर आपराधिक तत्व रात में आकर भोजन करते थे. वही स्थानीय पुलिस को भी इस एवज में फ्री में बहुत कुछ हासिल हो जाता था. सटोरियों जुआरियों की गाड़ी भी यही खड़ी रहा करती थी. भले ही जुआ कहीं और चल रहा हो.  दरअसल पुलिस अधीक्षक ने यह कदम कुछ मुस्लिम पार्षदों की उस शिकायत के बाद उठाया है जिसमे उन्होंने रात भर खुली रहने वाली मुस्लिम बहुल इलाकों की दुकानों को बंद करने की मांग की थी. वही कई अन्य  लोग भी इस तरह की मांग हमेशा से करते आ रहे है.
कई दुकाने ऐसी जिसमे ताले या दरवाजे भी नहीं है-  होता यह था की इन दुकानों को दिन में कोई व्यक्ति चलता था रात में कोई और.दुकानों में गैर कानूनी रूप से लूडो तथा अन्य बोर्ड गेम्स लगा कर लोगो को भ्रमित  कर जुआ सट्टा नशाखोरी आदि अवैधानिक कार्यों को अंजाम दिया जाता था.

No comments:

Post a Comment