उबर कैब में बैठी थी महिला, सामने ही अश्लील हरकत करने लगा ड्राइवर - sach ki dunia

Breaking

Saturday, May 5, 2018

उबर कैब में बैठी थी महिला, सामने ही अश्लील हरकत करने लगा ड्राइवर

मुंबई कैब संचालक कंपनी उबर ने मुंबई में अपने एक ड्राइवर को महिला पैसेंजर के सामने हस्तमैथुन करने के आरोपों के चलते नौकरी से निकाल दिया है. महिला पैसेंजर द्वारा दर्ज शिकायत के मुताबिक, यह घटना बीते शुक्रवार की है. उबर ने घटना सामने आने के बाद तत्काल आरोपी ड्राइवर को नौकरी से निकालने की घोषणा की.

महिला शिकायतकर्ता के मुताबिक, यह घटना बीते शुक्रवार को अंधेरी ईस्ट के व्यस्ततम इलाके में घटी. पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक, कैब जब एक ट्रैफिक सिग्नल पर रुका तो अचानक ड्राइवर ने खुलेआम महिला को दिखाते हुए हस्तमैथुन करना शुरू कर दिया.

महिला ने बाद में सोशल मीडिया पर घटना का जिक्र करते हुए लिखा, 'ड्राइवर की उस हरकत के बाद मैं तुरंत कार से बाहर निकल आई और ड्राइवर को फेयर मीटर बंद करने के लिए कहा. इस पर ड्राइवर भी अपशब्द कहता हुआ कार से बाहर निकल आया और पूछने लगा कि क्या हुआ... इस पर मैंने कहा तुम्हें नहीं पता कि क्या हुआ या तुम चाहते हो कि मैं चीख-चीखकर सबको बता दूं कि तुमने क्या किया.'

महिला ने बताया कि उसने बिना छुट्टे लिए किराए से अधिक राशि ड्राइवर को थमाई और फौरन वहां से निकल गई, क्योंकि उन्हें ड्राइवर से खतरा महसूस हुआ. कैब से उतरने के बाद महिला सीधा अंधेरी में एमआईडीसी पुलिस स्टेशन गई और ड्राइवर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई.

उबर के एक प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि घटना की जानकारी सामने आने के बाद ड्राइवर को फौरन हटा दिया गया. उन्होंने कहा, 'जो कुछ हुआ उसकी हमारे यहां कोई जगह नहीं है. हमारी कम्युनिटी गाइडलाइन में भी साफ तौर पर इस तरह के व्यवहार को खारिज किया गया है. घटना की जानकारी मिलने के तुरंत बाद ड्राइवर का हमारे एप से एक्सेस बंद कर दिया गया.'

बता दें कि ऐसा ही एक मामला राजधानी दिल्ली में करीब दो सप्ताह पहले सामने आया था. 15 अप्रैल को एक महिला ने ऑफिस जाने के लिए उबर कैब बुक किया. कार में बैठने के बाद ड्राइवर ने उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी. महिला ने जब इसका विरोध किया तो ड्राइवर ने गाड़ी तेज कर दी और कार के अंदर ही हस्तमैथुन करने लगा. महिला ने उसी समय पैनिक बटन दबा दिया.

इस घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई. पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर कैब ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं में केस दर्ज करके कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. पुलिस जांच में यह भी पता चला कि कैब ड्राइवर का लाइसेंस फेक था.

No comments:

Post a Comment