स्मिथ को रोता देख आखिरकार सचिन ने तोड़ी चुप्पी, अब दिया ये बड़ा बयान - sach ki dunia

Breaking

Friday, March 30, 2018

स्मिथ को रोता देख आखिरकार सचिन ने तोड़ी चुप्पी, अब दिया ये बड़ा बयान

नई दिल्ली टीम इंडिया के पूर्व महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने मुश्किल समय में स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और केमरन बैनक्रॉफ्ट को समय देने की बात कही है, जिन्होंने बॉल टेंपरिंग मामले में सजा पाने के बाद माफी मांगी है.

तेंदुलकर ने ट्विटर पर लिखा, ‘उन्हें अपने किए पर पछतावा है और उन्हें अपने कृत्य के नतीजों के साथ रहना होगा. उनके परिवार के बारे में सोचें क्योंकि खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार को भी यह झेलना होगा. अब समय आ गया है कि हम पीछे हटें और उन्हें थोड़ा समय दें.'
बता दें कि स्टीव स्मिथ ने गुरुवार को सिडनी में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दक्षिण अफ्रीका में बॉल टेंपरिंग की पूरी जिम्मेदारी ली और कहा कि वह काफी निराश हैं और पूरी जिंदगी उन्हें इस घटना का मलाल रहेगा.
निराश स्मिथ खचाखच भरी प्रेस कॉन्फ्रेंस में खुद पर संयम बनाए रखने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उनकी आंखों में बार-बार आंसू आ रहे थे. स्मिथ अफ्रीका से ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद पांच मिनट की प्रेस कांफ्रेंस में बार-बार रोते रहे.
इससे पहले टीम इंडिया के स्टार ओपनर रोहित शर्मा ने स्टीव स्मिथ को इस तरह रोता देख उनसे सहानुभूति जताई. रोहित ने ट्वीट कर लिखा कि 'स्टीव स्मिथ को जोहानिसबर्ग एयरपोर्ट पर जिस तरह से ट्रीट किया गया वह बिलकुल भी अच्छा नहीं था और सिडनी में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जिस तरह से स्मिथ भावुक हुए वह मेरे दिमाग में घूम रहा है. खेल की भावना अत्यंत महत्वपूर्ण है, इसमें कोई इनकार नहीं करता.'
रोहित ने कहा कि 'स्मिथ ने एक गलती की और उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया. मेरा यहां बैठकर ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड के फैसले पर सवाल उठाना अनुचित होगा, लेकिन स्मिथ महान खिलाड़ी हैं और मुझे नहीं लगता कि ये विवाद उन्हें परिभाषित करता है.'

रोहित के अलावा इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन ने भी जोहानिसबर्ग एयरपोर्ट पर स्टीव स्मिथ के साथ अपराधियों जैसे बर्ताव की आलोचना करते हुए लिखा कि 'यह मुझे बिलकुल भी पसंद नहीं आया. स्मिथ क्रिमिनल नहीं हैं.'
इसके अलावा दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने कहा कि उन्हें लगता है कि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ पर लगा 12 महीने का प्रतिबंध काफी‘कड़ा’है. डु प्लेसिस ने कहा, 'मुझे लगता है कि वह अच्छे खिलाड़ियों में से एक है और वह बस सिर्फ गलत जगह फंस गया.'

डु प्लेसिस ने कहा, 'मुझे सच में दिल से उनके लिए दुख महसूस हो रहा है. मैं खिलाड़ियों को इस दौर से गुजरते हुए नहीं देखना चाहता.' अगले कुछ दिन उनके लिए काफी मुश्किल होंगे इसलिए मैंने उनके समर्थन के लिए संदेश भेजा कि वह इस कठिन दौर से निकल जाएंगे और उन्हें मजबूत होना चाहिए.'
बता दें कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने बॉल टेंपरिंग के मामले में दागी स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगा दिया है. जबकि सलामी बल्लेबाज केमरन बेनक्रॉफ्ट को नौ महीने के लिए प्रतिबंधित किया है.
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की आचार संहिता के तहत स्मिथ को इस बात का दोषी पाया गया कि उन्हें कृत्रिम तरीके से गेंद की दशा बदलने की योजना की पहले से जानकारी थी और उन्होंने इसे रोकने के लिए कुछ नहीं किया. स्मिथ पर मैच अधिकारियों और अन्य को गुमराह करने की कोशिश करने का भी आरोप है

No comments:

Post a Comment