जबलपुर: प्रदेश सरकार के सहयोग और मार्गदर्शन में जनसेवा और विकास की दिशा में अग्रसर - महापौर डॉं. श्रीमती स्वाती सदानंद गोडबोले - sach ki dunia

Breaking

Friday, February 17, 2017

जबलपुर: प्रदेश सरकार के सहयोग और मार्गदर्शन में जनसेवा और विकास की दिशा में अग्रसर - महापौर डॉं. श्रीमती स्वाती सदानंद गोडबोले

जबलपुर । एक ही दिन में और एक ही समय में 12 लाख 68 हजार 4 सौ 80 हितग्राहियों को विभिन्न शासकीय योजनाओं के हित लाभों का वितरण कर आज प्रदेश सरकार ने इतिहास कायम किया। 25 दिसम्बर 2016 से प्रारंभ हुए नगर उदय अभियान के समापन अवसर पर जबलपुर पहुॅंचे मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उनकी सरकार जनता की हितैषी है, योजनाओं के लाभ के लिए जनता को भटकाव से रोकने और उनकी आवश्यकताओं के अनुसार विकास का प्रारूप तैयार करने के उद्देश्य से ही नगर उदय अभियान का शुभारंभ किया गया है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उनका संकल्प प्रदेश को समृद्ध, विकसित और वैभवशाली बनाने का है और इस दिशा में वे लगातार कार्य कर रहे हैं। प्रदेश के 378 नगर पालिकाओं और नगर निगमों में चल रहे नगर उदय अभियान के समापन अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि आने वाले पॉंच वर्षो में शहरों के विकास पर 86000 करोड़ रूपये की राषि खर्च की जायेगी। विराट हितग्राही सम्मेलन में आज हितग्राहियों का उत्साह देखकर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उनसे सीधा संवाद भी किया और सभी हितग्राहियों का अपने उद्बोधन के बीच बीच में उत्साहवर्धन किया। आज आयोजित हितग्राही सम्मेलन में हितग्राहियों की उपस्थिति जनसैलाब के रूप में देखकर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भी खुले दिल से प्रशासन की जिला पुलिस एवं निगम प्रशासन की जमकर तारीफ की और सभी से कहा कि एक-एक हितग्राहियों को लाभ मिले इस बात का भी अधिकारी ध्यान रखें। हितग्राही सम्मेलन का शुभारंभ सम्मानीय अतिथियों द्वारा द्वीप प्रज्जवलन कर मध्यप्रदेश गान की प्रस्तुति के साथ किया गया। इसके पश्चात मंच पर उपस्थित सभी अतिथियों का पुष्पगुच्छ भेंट कर महापौर डॉं. श्रीमती स्वाती सदानंद गोडबोले, कलेक्टर श्री महेश चंद चौधरी एवं निगमायुक्त श्री वेदप्रकाश द्वारा स्वागत किया गया। 
स्वच्छता पर खास फोकस
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का संबोधन स्वच्छता पर खास फोकस रहा, उन्होंने कहा कि जहॉं स्वच्छता वहॉं ईश्वर का वास होता है। स्वच्छता के क्षेत्र में जबलपुर में किये गए प्रयासों का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इसके लिए नागरिकों को बधाई दी। उन्होंने ने मंच से देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की भी तारीफ की और कहा कि भारत सरकार द्वारा संचालित स्वच्छता जागरूकता अभियान भी सफल अभियान के रूप में सामने आया है जिसके साकारात्मक परिणाम दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि जनता ने स्वच्छता के मामले में नई मिसाल पेश की है। 
1 मई से पॉलीथिन पर प्रतिबंध
प्रदूषण और गंदगी के लिए जिम्मेदार पॉलीथिन पर प्रदेश में पूर्णतः प्रतिबंध लगाया जायेगा। नगर उदय अभियान के समापन और विराट हितग्राही सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की कि आगामी 1 मई से प्रदेश में पॉलीथिन के उपयोग पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया जायेगा। 

मंच से अनेक घोषणाएॅं 
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मंच से अनेक घोषणाएॅं की। मुख्यमंत्री अद्योसंरचना योजना के अंतर्गत 1200 करोड़ की प्रथम किष्त जारी करने के साथ ही मुख्यमंत्री ने बताया कि 6191 करोड़ की राशि नगरीय निकायों में पेयजल उपलब्ध कराने के लिए दी जायेगी। इसके अलावा नालों के गंदे पानी को नर्मदा में मिलने से रोकने के लिए किये जा रहे प्रयासों की भी मुख्यमंत्री ने जानकारी दी। शहरी यातायात में बेहतरी लाने 20 शहरों के लिए 2100 करोड़ रूपये की राशि जारी करने और मलजल निकासी के लिए 1640 करोड़ रूपये की राशि प्रदान करने की घोषणा भी मुख्यमंत्री ने की। 
अवैध कॉलोनियॉं होंगी वैध 
राज्यस्तरीय नगर उदय अभियान के समापन समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अवैध कॉलोनियों को वैध करने की घोषणा की। इस प्रक्रिया को पूर्ण कर नागरिकों को राहत देने विकास शुल्क की 80 प्रतिषत राशि प्रदेश सरकार खर्च करेगी जबकि बाकी 20 प्रतिशत की राशि सांसद और विधायकों के मद से ली जायेगी। 
वेस्ट टू एनर्जी प्लांट की सराहना
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर नगर निगम द्वारा स्थापित वेस्ट टू एनर्जी प्लांट की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि जबलपुर नगर निगम ने कचरे से बिजली बनाने का प्लांट स्थापित कर पूरे प्रदेश में नंबर वन स्थान प्राप्त किया है, इसके लिए यहॉं के नागरिक बधाई के पात्र हैं। 

सदर के गैरिसन ग्राउंड में आयोजित विराट हितग्राही सम्मेलन को प्रदेश की नगरीय विकास और आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने भी संबोधित किया, उन्होंने नगर उदय अभियान के उद्देश्यों को रेखांकित करते हुए कहा कि 25 दिसम्बर 2016 से प्रारंभ होकर तीन चरणों में चले नगर उदय अभियान के दौरान नागरिकों की भागीदारी से सरकार उत्साहित है। उन्होंने कहा कि नागरिकों को सुगम कार्यप्रणाली और पारदर्शी प्रशासन देने के उद्देश्य से अभियान प्रारंभ किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नगर निगमों और नगर पालिकाओं को कैशलेस बनाने तेजी से प्रयास किये जा रहे हैं। 

महापौर डॉं. श्रीमती स्वाती सदानंद गोडबोले ने सम्मेलेन में नगर निगम द्वारा किये जा रहे कार्यो की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के सहयोग से जबलपुर में अद्योसंरचना निर्माण के साथ ही नागरिकों को बेहतर सेवाएॅं देने लगातार कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि विराअ हितग्राही सम्मेलन के माध्यम से 51 करोड़ 15 लाख के अद्योसंरचना निर्माण के अलावा 85303 हितग्राहियों को हितलाभ प्रदान किये जा रहे हैं।
60 स्टॉल लगाए गये 
हितग्राही सम्मेलन में हितग्राहियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए प्रशासन द्वारा विभागवार अलग अलग 60 क्रम से स्टॉल लगवाये गए, जहॉं पर हितग्राहियों ने भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त किया। 
गीत संगीत की प्रस्तुति 
हितग्राही सम्मेलन में पहुॅंचे हितग्राहियों के मनोरंजन के लिए प्रशासन द्वारा गीत संगीत एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों की व्यवस्था भी की गयी थी, जहॉं पर देश भक्ति के गीत संगीत की प्रस्तुति के साथ साथ सांस्कृतिक गतिविधियों की भी प्रस्तुति कलाकारों द्वारा दी गयी।  
सम्मेलन में ये भी जनप्रतिनिधि रहें उपस्थित
अध्यक्ष जिलापंचायत श्रीमती मनोरमा पटैल, उपाध्यक्ष म.प्र. राज्य पिछड़ा वर्ग श्री एस.के. मुद्दीन, विधायक पूर्व क्षेत्र श्री अंचल सोनकर, अध्यक्ष महाकौशल विकास प्राधिकरण श्री प्रभात साहू, विधायक बरगी श्रीमती प्रतिभा सिंह, अध्यक्ष जबलपुर विकास प्राधिकरण डॉं. विनोद मिश्रा, विधायक सिहोरा श्रीमती नंदनी मरावी, विधायक पनागर श्री सुशील तिवारी, विधायक केन्ट क्षेत्र श्री अषोक रोहाणी, मनोनित विधायक श्रीमती एल.बी. लोबो, विधायक पश्चिम क्षेत्र श्री तरूण भानोत, उपाध्यक्ष छावनी परिषद, श्री अभिषेक चौकसे, निगमाध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा बाल्मीक, नेताप्रतिपक्ष श्री राजेश सोनकर के साथ मेयर इन काउंसिल के सदस्य सर्वश्री कमलेश अग्रवाल, श्रीराम शुक्ला, मनप्रीत सिंह आनन्द, नवीन कुमार रिछारिया, रमेश प्रजापति, दुर्गा देवी उपाध्याय, इन्द्रजीत कुंवरपाल सिंह, ज्योति कुरील, रेखा सिंह ठाकुर, वीणा रजनीश जैन, नगर अध्यक्ष श्री जी.एस. ठाकुर, पूर्व निगम अध्यक्ष श्री राजेश मिश्रा के साथ साथ समस्त पार्षदगण उपस्थित रहे। 
व्यवस्थाओं एवं निगरानी में लगे अधिकारीगण
हितग्राही सम्मेलन की व्यवस्थाओं एवं निगमरानी में मध्यप्रदेश शासन के प्रमुख सचिव श्री मलय श्रीवास्तव, नगरीय प्रशासन के एवं पर्यावरण विकास विभाग के आयुक्त श्री विवेक अग्रवाल, संभागीय कमिश्नर श्री गुलशन बामरा, कलेक्टर श्री महेष चंद चौधरी, आई.जी., डी.आई.जी., पुलिस अधीक्षक श्री महेन्द्र सिंह सिकरवार, निगमायुक्त श्री वेदप्रकाश, अपर कलेक्टर श्री छोटे सिंह, अपर आयुक्त श्री गजेन्द्र सिंह नागेश, श्री रोहित सिंह कौशल, उपायुक्त श्री जी.एस. बघेल, श्री राकेश अयाची, श्रीमती अंजू सिंह, मुख्य अभियंता श्री एच.एस. गौड़, अधीक्षण यंत्री श्री एस.के. द्विवेदी, मुख्य विधि अधिकारी अनिल मिश्रा, कार्यपालन यंत्री श्री अजय शर्मा, कमलेश श्रीवास्तव, राजवीर नयन, संजय पाण्डे, आर.के. गुप्ता, नवीन लोनारे, जी.एस. मरावी, एच.पी. सिंह, सुनील दुबे, स्वास्थ्य अधिकारी श्री जी.एस. चंदेल, समस्त संभागीय अधिकारी, तथा सभी मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक, शीतल उपाध्याय आदि उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment