जबलपुर: वह उत्तरप्रदेश से भटक भटक यहाँ आ गयी....फिर पुलिस की नजर पड़ी....हुआ ये - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

जबलपुर: वह उत्तरप्रदेश से भटक भटक यहाँ आ गयी....फिर पुलिस की नजर पड़ी....हुआ ये



उत्तरप्रदेश से भटक कर ग्वारीघाट पहुंची मानसिक विक्षिप्त युवती को ग्वारीघाट पुलिस ने सुरक्षित परिजनों के सुपुर्द किया


दिनांक 11/10/2021 को थाना ग्वारीघाट क्षेत्र में भ्रमण के दौरान डायल 100 वाहन को सूचना प्राप्त हुई कि ग्वारीघाट पुराने रेलवे स्टेशन के सामने एक युवती अकेले सुनसान में घूम रही है, सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुये डायल 100 वाहन में तैनात प्रधान आरक्षक प्रभुनाथ यादव मौके पर पहुॅचे और सूचना की जानकारी थाना प्रभारी ग्वारीघाट व वरिष्ठ अधिकारियों को दी । सूचना प्राप्त होते ही संभाग क्षेत्र में भ्रमण हेतु रवाना नगर पुलिस अधीक्षक केंट श्रीमती भावना मरावी तुरंत मौके पर पहुॅची जिसके बाद उक्त युवती के साथ संवाद स्थापित करने का प्रयास किया गया, युवती जो मानसिक रूप से अस्वस्थ्य थी, काफी देर पूछताछ के प्रयास के बाद यह ज्ञात हुआ कि युवती थाना मनकापुर गोंडा उत्तर प्रदेश की रहने वाली है। नगर पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार युवती को सुरक्षित थाना ग्वारीघाट लाया गया तथा थाने पर महिला ऊर्जा हेल्प डेस्क में पदस्थ उप निरीक्षक रितु उपाध्याय के सुपुर्द युवती को किया गया और युवती की देखरेख हेतु निर्देशित किया गया।




पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के मार्गदर्शन में थाना मनकापुर जिला गोंडा उत्तरप्रदेश के थाना प्रभारी विष्णुदेव पाण्डेय से दूरभाष पर चर्चा कर उनको युवती के संबंध में जानकारी प्रदाय की गई तथा युवती के परिजनों को सूचित करने हेतु बताया गया, तथा युवती के पिता का मोबाईल नंबर प्राप्त कर उन्हंे उनकी पुत्री की कुशलक्षेम बतायी गयी।

सूचना पाकर आज दिनांक 12/10/2021 को युवती के पिता थाना ग्वारीघाट पहुंचे एवं बताये कि उनकी पुत्री का मानसिक ईलाज चल रहा है। पिता को बेटी से मिलवाया गया जिसके बाद उन्होने अपनी पुत्री से क्षेत्रिय भाषा में बात की तथा बात करने के बाद पिता द्वारा बताया कि उनकी पुत्री के साथ कोई घटना दुर्घटना घटित नही हुई है वह ग्वारीघाट जबलपुर कैसे पहुॅच गई यह उसे याद नही है जिसके बाद युवती को उसके पिता राघव राम प्रजापति के सुपुर्द किया गया ।




उल्लेखनीय भूमिका - भटक कर ग्वारीघाट पहुंची मानसिक रूप से अस्वस्थ्य युवती के संबंध में पतासाजी करते हुये सकुशल पिता के सुपर्द करने में थाना प्रभारी ग्वारीघाट श्रीमति भूमेश्वरी चौहान, उप निरीक्षक रितु उपाध्याय, प्रभुनाथ यादव, महिला आरक्षक प्रियंका टांडेकर, महिला आरक्षक पदमा ठाकरे, वैष्णवी गुप्ता, आकृति राजपूत की सराहनीय रही है ।

No comments:

Post a Comment