मौसमी फ्लू जैसा हो जाएगा कोरोना, लेकिन अभी नहीं : अध्ययन - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

मौसमी फ्लू जैसा हो जाएगा कोरोना, लेकिन अभी नहीं : अध्ययन

दुनिया में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या मंगलवार को 2.94 करोड़ पार कर गई, जबकि मृतकों का आंकड़ा 9.33 करोड़ से ज्यादा हो गया है। महामारी की चपेट में आए 2.13 करोड़ लोग ठीक भी हुए हैं। इस बीच, एक अध्ययन में दावा किया गया है कि कोविड-19 एक समय बाद मौसमी फ्लू जैसा हो जाएगा, लेकिन अभी इसमें काफी समय लग सकता है।

लेबनान की अमेरिकान यूनिवर्सिटी ऑफ बेरुत के अध्ययन के मुताबिक, अलग-अलग जलवायु में वायरस अपना रूप बदलेगा लेकिन यदि इसके लिए एंटीबॉडी विकसित हो जाए तो करीब सभी देशों में यह मौसमी फ्लू जैसा हो जाएगा। फ्रंटियर्स इन पब्लिक हेल्थ में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक, जब तक एंटीबॉडी हासिल नहीं कर ली जाती तब तक कोरोना वायरस कई रूपों में सामने आ सकता है। हालांकि, फ्लू जैसे अन्य वायरस की तुलना में इसका ट्रांसमिशन रेट उच्च रहेगा।
महामारी के खिलाफ लड़ाई में डब्लूएचओ की मदद करे वैश्विक समुदाय: संयुक्त राष्ट्र महासचिव
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने वैश्विक समुदाय से कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में संयुक्त राष्ट्र प्रणाली और विशेष रूप से विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की मदद करने का आग्रह किया। इस गर्मी में, महामारी से निपटने में डब्ल्यूएचओ के असफल रहने की बार-बार आलोचना करने के बाद संयुक्त राज्य अमेरिका ने गुटेरेस से औपचारिक रूप से जुलाई 2021 में डब्ल्यूएचओ से हटने की घोषणा की थी। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टागस ने डब्लूएचओ पर अविश्वास व्यक्त किया था। डब्ल्यूएचओ ने मार्च में कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया था।



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें