श्रीनगर में शुरू हुआ आजादी का जश्न, शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रम - sach ki dunia

Breaking

Thursday, August 15, 2019

श्रीनगर में शुरू हुआ आजादी का जश्न, शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रम

73वां स्वतंत्रता दिवस इस बार खास होने जा रहा है और वो भी जम्मू-कश्मीर के लिए. अनुच्छेद 370 को कमजोर किए जाने और केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने के बाद ये पहला स्वतंत्रता दिवस है. ऐसे में घाटी में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं. बीते कई दिनों से घाटी में जारी धारा 144 आज भी लागू रहेगी लेकिन स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए हर किसी को छूट दी जाएगी.
73वां स्वतंत्रता दिवस इस बार खास होने जा रहा है और वो भी जम्मू-कश्मीर के लिए. अनुच्छेद 370 को कमजोर किए जाने और केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने के बाद ये पहला स्वतंत्रता दिवस है. ऐसे में घाटी में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं. बीते कई दिनों से घाटी में जारी धारा 144 आज भी लागू रहेगी लेकिन स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए हर किसी को छूट दी जाएगी.
लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग शेरिंग लेह में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जमकर नाचे. यहां स्थानीय लोगों के साथ वह जश्न में शामिल हुए.
लद्दाख के सांसद जामयांग शेरिंग ने ट्विटर के जरिए स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी और लद्दाख के केंद्रशासित प्रदेश बनने पर खुशी जाहिर की.
लेह में जश्न मनाएंगे एमएस धोनीभारतीय सेना की टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल (मानद) और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इन दिनों जम्मू-कश्मीर में ही ट्रेनिंग ले रहे हैं. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर धोनी लद्दाख में रहेंगे और वहां पर ही जश्न मनाएंगे. वह 14 अगस्त की शाम को ही लद्दाख पहुंच गए थे और स्थानीय जवानों से मुलाकात की.
घाटी में भले ही अभी धारा 144 लागू हो लेकिन जम्मू से ये पाबंदियां हटा दी गई हैं. जम्मू में स्कूल-कॉलेज खुले हुए हैं, बाजार भी खुल गए हैं.
राज्यपाल सत्यपाल मलिक श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडा फहराएंगे. आज घाटी में जिले, तहसील और पंचायत के स्तर पर जश्न मनाया जाएगा. इसके लिए हर तरह की तैयारी कर ली गई है. बुधवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारी और प्रिंसिपल सेक्रेटरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सारी तैयारियों की जानकारी दी थीं.
73वां स्वतंत्रता दिवस इस बार खास होने जा रहा है और वो भी जम्मू-कश्मीर के लिए. अनुच्छेद 370 को कमजोर किए जाने और केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने के बाद ये पहला स्वतंत्रता दिवस है. ऐसे में घाटी में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं. बीते कई दिनों से घाटी में जारी धारा 144 आज भी लागू रहेगी लेकिन स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए हर किसी को छूट दी जाएगी.

No comments:

Post a Comment