असम में बाढ़ से बिगड़े हालत, 15 हजार लोग हुए बेघर, एक लाख से ज्यादा प्रभावित - sach ki dunia

Breaking

Wednesday, June 28, 2017

असम में बाढ़ से बिगड़े हालत, 15 हजार लोग हुए बेघर, एक लाख से ज्यादा प्रभावित

नई दिल्लीकांग्रेस की अगुआई वाले विपक्ष की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार ने बुधवार को अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन के वक्त मीरा कुमार के साथ कांग्रेस की टॉप लीडरशिप मौजूद थी, हालांकि पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी नजर नहीं आए। फिलहाल छुट्टियों पर चल रहे राहुल ने ट्वीट करके मीरा कुमार की तारीफ की। बता दें कि विपक्षी एकजुटता को झटका देकर जेडीयू ने एनडीए कैंडिडेट कोविंद को समर्थन देने का फैसला किया है। माना जा रहा है कि मीरा को कुल 17 दलों का समर्थन हासिल है।
 
मीरा कुमार ने जब लोकसभा सचिव को अपना नामांकन पत्र सौंपा तो उनके साथ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, एनसीपी प्रमुख शरद पवार जैसे नेता आगे की कतार की कुर्सियों में बैठे दिखे। इसके अलावा, समाजवादी पार्टी से नरेश अग्रवाल, बीएसपी से सतीश मिश्रा, लेफ्ट के सीताराम येचुरी जैसे नेता भी वहां मौजूद थे। हिमाचल प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह, कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के अलावा सोनिया के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला और राजीव शुक्ला भी नामांकन के दौरान उपस्थित रहे।
बता दें कि राष्ट्रपति पद के लिए 17 जुलाई को होने वाले चुनाव के लिये नामांकन दाखिल करने की बुधवार को अंतिम तारीख है। मंगलवार तक एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद सहित 64 नामांकन पत्र भरे जा चुके थे। सूत्रों के अनुसार, 17 विपक्षी दलों में से प्रत्येक के नेता को मीरा कुमार के नाम का प्रस्ताव या अनुमोदन करने का अवसर मिला है। वहीं, नामांकन भरने से पहले मीरा कुमार ने राजघाट जाकर महात्मा गांधी और समता स्थल जाकर अपने पिता बाबू जगजीवन राम को श्रद्धांजलि दी।

No comments:

Post a Comment