सीएम शिवराज ने किया थिंक-20 बैठक का शुभारंभ, मौजूदा दौर में पर्यावरणसम्‍मत जीवन शैली पर मंथन करेंगे 22 देशों के मेहमान - sach ki dunia, India's top news portal Get Latest News. Hindi Samachar

Breaking

सीएम शिवराज ने किया थिंक-20 बैठक का शुभारंभ, मौजूदा दौर में पर्यावरणसम्‍मत जीवन शैली पर मंथन करेंगे 22 देशों के मेहमान



भोपाल । इस साल जी-20 सम्‍मेलन की अध्‍यक्षता का मौका भारत को मिला है। इसी सिलसिले में जी-20 के अंतर्गत दो दिवसीय टी-20 (थिंक-20) बैठकों का आयोजन भोपाल में आज से शुरू हुआ। राजधानी के कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में इन बैठकों में 22 देशों के 94 प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

सीएम शिवराज ने किया टी-20 के अतिथियों संग पौधारोपण

इस सम्‍मेलन से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज जी ट्वेंटी के अंतर्गत टी-20 विचार सत्र में भोपाल पधारे विभिन्न देशों के डेलिगेट्स के साथ पौधारोपण किया। उन्‍होंने स्मार्ट उद्यान में भिन्न भिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए। इस दौरान नीति आयोग दिल्ली के उपाध्यक्ष सुमन बेरी और मध्य प्रदेश नीति आयोग के प्रो सचिन भी मौजूद थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जी-20 के तहत आज टी-20 की यह बैठक महत्वपूर्ण है। दुनियाभर के चिंतक और बुद्धिजीवी मध्यप्रदेश पधारे हैं। भोपाल कैपिटल ऑफ इंटेलेक्चुअल हो गई है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वे प्रतिदिन पौधे लगाते हैं। मध्यप्रदेश में अंकुर पोर्टल बनाया गया है जिसमें नागरिक विवाह वर्षगांठ और जन्म वर्षगांठ पर पौधे लगाते हैं। अंकुर पोर्टल के माध्यम से लोग जुड़ते जा रहे हैं इनकी संख्या 37 लाख से अधिक हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी वन अर्थ, वन फैमिली एंड वन फ्यूचर के सिद्धांत पर कार्य कर रहे हैं। आज ये उद्यान ग्लोबल गार्डन हो गया है। इस अवसर पर नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष सुमन बेरी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। बता दें कि जी-20 के अंतर्गत थिंक -20 की दो दिवसीय बैठक में "पर्यावरण सम्मत जीवन शैली-नैतिक मूल्य तथा सुमंगलमय युक्त वैश्विक सुशासन" विषय पर देश और विदेश से आए मंत्री और विषय-विशेषज्ञों द्वारा विचार-मंथन किया जा रहा है।

प्रथम दिन होंगे दस सत्र

जी-20 की दो दिवसीय बैठक के पहले दिन उद्घाटन सेशन के मुख्य वक्ता एडीबीआइ टोक्यो, जापान के डीन और सीईओ टेत्सुशी सोनोबे हैं। विशेष वक्ता के तौर पर इंडोनेशिया के राजनीतिक कार्य, विधि, सुरक्षा एवं नेशनल डेवलपमेंट प्लानिंग मंत्रालय के उप मंत्री स्लेमेट सोएदारसोनो, भारत सरकार के जी-20 के मुख्य समन्वयक हर्षवर्धन श्रृगंला एवं भारत सरकार के नीति आयोग के उपाध्यक्ष सुमन बेरी कार्यक्रम में मौजूद हैं। प्रथम दिन दस सत्र में बैठकें होंगी । इंस्टीट्यूशनल फ्रेमवर्क फार लाइव, इन्वेस्टिंग इन चिल्ड्रन एज इंवेस्टमेंट इन फ्यूचर, फाइनेंसिंग रेजिलिएंट सिटीज एंड सोसायटीज, इकानामिक सिस्टम्स ट्रांसफार्मेशन एवं वन हेल्थ वेलनेस एंड ट्रेडिशनल मेडिसिन विषय पर दोपहर तीन से शाम चार बजे तक पांच सत्र होंगे। एथिक्स इन टेक्नालाजी, विमेन एंड यूथ लेड डेवलपमेंट, एनर्जी, इंडस्ट्रियल ट्रांसफार्मेशन एवं गोइंग बियांड जीडीपी-वेलबीईंग मेजरमेंट विषय पर शाम चार से पांच बजे तक पांच सत्र होंगे।

17 जनवरी को होगा समापन, पांच सत्र होंगे

दूसरे दिन 17 जनवरी को पांच सत्र होंगे। राज्यपाल मंगुभाई पटेल के समापन भाषण के साथ दो सत्र एवं एक राउंड टेबल बैठक तथा एक वेलीडिक्ट्री सत्र होगा। इस दिन राजदूत अमर सिन्हा की अध्यक्षता में रोल आफ ट्राईएंगुलर कार्पोरेशन इन लोकेलाइजेशन आफ एसडीजीएस विषय पर बैठक का चौथा सत्र होगा। सत्र के बाद ग्लोबल साउथ एंड ग्लोबल गवर्नेंस पर राउंड टेबल मीटिंग होगी। पांचवां और अंतिम सत्र 'न्यू काम्पलीमेंट्रीज इन ट्रेड एंड वेल्यू चेंज' विषय पर होगा। इसके बाद कार्यक्रम का समापन किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें