1984 दंगा केस : दिल्ली HC के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे सज्जन कुमार

35

1984 के सिख विरोधी दंगा केस में उम्रकैद की सजा पाए सज्जन कुमार ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है. सज्जन कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में दिल्ली हाईकोर्ट के हालिया फैसले में अपनी सजा के खिलाफ अपील दायर की है. माना जा रहा है कि सजन कुमार की इस अपील पर सुप्रीम कोर्ट अगले साल जनवरी महीने में सुनवाई कर सकता है.

बता दें कि 1984 में दिल्ली छावनी के राजनगर क्षेत्र में 5 लोगों की हत्या के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी. कोर्ट ने सज्जन कुमार पर पांच लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था. इसके अलावा कोर्ट ने सज्जन कुमार को 31 दिसंबर तक समर्पण करने को कहा था. सज्जन कुमार को आपराधिक साजिश और दंगा भड़काने का दोषी पाया गया. इस मामले में निचली अदालत ने कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी कर दिया था.

हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि 1984 में ‘राजनीतिक संरक्षण’ प्राप्त लोगों ने षड्यंत्र रचा था. साथ ही हाईकोर्ट ने नरसंहार के खिलाफ कानून बनाए जाने का भी आह्वान किया. अदालत ने कानूनी व्यवस्था को मजबूत करने की अपील की ताकि जनरसंहार के षड्यंत्रकारियों को जवाबदेह बनाया जा सके. अदालत ने कहा कि ‘मानवता के खिलाफ अपराध’ और ‘नरसंहार’ को घरेलू कानून का हिस्सा नहीं बनाया गया है और इसका तुरंत समाधान करने की जरूरत है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here