सूर्य ग्रहण 2019 में कब है, जानें सूर्य ग्रहण से किन राशियों पर पड़ेगा बुरा असर

39

सूर्य ग्रहण 2019 में कब है ? (Surya Grahan 2019) इसको लेकर अब संशय ख़त्म हो गया है। सूर्य ग्रहण भारत में 2019 (Surya Grahan 2019 In India) में तीन बार पड़ रहा है। नए साल 2019 की शुरुआत में ही सूर्य ग्रहण 6 जनवरी 2019 रविवार के दिन पड़ रहा है। एक तरफ लोगों में नए साल 2019 की खुशियां हैं तो दूसरी ओर सूर्य ग्रहण से होने वाले शुभ और अशुभ योग की चिंता भी लोगों को सता रही है। सूर्य ग्रहण 2019 को लेकर अगर आपके मन में भी कोई डर है तो आपको बता दें कि आपको डरने की बिलकुल जरुरत नहीं है। (सूर्य ग्रहण 2019 in india) दरअसल हम सभी जानते हैं कि सूर्य ग्रहण के समय कुछ भी शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं इसलिए 2019 का सूर्य ग्रहण की तिथि, मुहूर्त से लेकर हम उस दौरान की जाने वाली सावधानियां तक लेकर आएं हैं…

हिंदू धर्म शास्त्रों में सूर्य ग्रहण का महत्व है। सूर्य ग्रहण के बारे में बात करें तो सूर्य ग्रहण की जानकारी, सूर्य ग्रहण कैसे लगता है ? और सूर्य ग्रहण योग आदि से जुड़ी बातें अक्सर लोगों के मन में उठती है। साल 2019 में तीन सूर्य ग्रहण पड़ रहे हैं जिनके प्रभाव भी अलग अलग क्षेत्रों में होने वाले हैं। ये सूर्य ग्रहण का समय भारतीय समयनुसार हैं तो आइए जानते हैं साल 2019 के सूर्य ग्रहण के बारे में….

सूर्य ग्रहण की जानकारी

सौर मंडल के ग्रहों में सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा तीन प्रमुख ग्रह हैं। हम पृथ्वी पर रहते हैं पृथ्वी सूर्य के चारों और चक्कर लगाती है तो और चांद पृथ्वी का चक्कर लगाता है। इस प्रकार सूर्य ग्रहण तब होता है जब चंद्रमा घूमते हुए पृथ्वी और सूर्य के बीच आ जाता है। इस प्रकार सूर्य आंशिक अथवा पूर्ण रुप से चन्द्रमा की छाया से ढंक जाता है। इस प्रकार के ग्रहण के लिये चन्दमा का प्रथ्वी और सूर्य के बीच आना आवश्यक है। सूर्य ग्रहण में सूर्य का ढका हुआ भाग नहीं दिखाई देता है क्योंकि चांद सूर्य का प्रकाश पृथ्वी तक नहीं पहुंचने देता है। सूर्य का प्रकाश हम तक नहीं पहुंचता और सूर्य हमें दिखाई नहीं देता इसी को सूर्य ग्रहण कहते हैं इसे अंग्रेजी में (Solar Eclipse )कहा जाता है।

सूर्य ग्रहण कैसे होता है (How Solar Eclipse Happen)

सूर्य ग्रहण के चंद्रमा की उपस्थिति से होता है। जब चंद्रमा, सूर्य और पृथ्वी के मध्य से होकर गुजरता है तो इस खगोलीय घटना को ही सूर्य ग्रहण कहते हैं। इस स्थिति में चंद्रमा की छाया सूर्य पर पड़ती है। सूर्य ग्रहण तीन प्रकार का होता है एक आंशिक दूसरा पूर्ण और तीसरा वलयाकार।

आंशिक सूर्य ग्रहण वो होता है जब सूर्य का कुछ भाग चंद्रमा की छाया से ढक जाता है, पूर्ण सूर्य ग्रहण में सूर्य पूरी तरह चंद्रमा की छाया से ढक जाता है वहीं वलयाकार सूर्य ग्रहण में चंद्रमा सूर्य के बीचों बीच अपनी छाया डालता है और सूर्य का बाहरी क्षेत्र प्रकाशित होता दिखता है। इस तरह सूर्य बीच में ढंका हुआ नजर आता है लेकिन उसके चारो ओर प्रकाश निकलता है।

सूर्य ग्रहण के योग-

जब सूर्य और राहु साथ भाव में हो तो सूर्य ग्रहण योग बनता है। कि व्यक्ति की कुंडली में अगर सूर्य ग्रहण योग या सूर्य ग्रहण दोष है तो यह ज्योतिष अनुसार अशुभ बताया गया है। कुंडली में अगर राहु सूर्य के साथ हो तो सूर्य ग्रहण दोष होता है। कुंडली में राहु रूपों का विपरीत प्रभाव में होना नकारात्मक माना गया है। इस ही ग्रहण दोष कहा गया है जिससे कारण व्यक्ति जीवन में कई कठिनाओं को झेलता है। साल 2019 में तीन प्रकार के सूर्य ग्रहण के योग बन रहे हैं।

साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2019)

वर्ष 2019 का पहला सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2019 Date and Time) 6 जनवरी को है, इस दिन रविवार पड़ रहा है। आपको बता दें कि यह एक आंशिक सूर्य ग्रहण है। यह सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार शाम 5:04 बजे से रात्रि 9:18 बजे तक रहेगा अर्थात इसकी अवधि क़रीब 4 घंटे 14 मिनट है। साथ ही यह भी बता दें कि देखने पर यह ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा परंतु मध्य-पूर्वी चीन, जापान, उत्तरी-दक्षिणी कोरिया आदि क्षेत्रों में यह ग्रहण नजर आएगा।

ज्योतिषीय के अनुसार साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण धनु राशि और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में लग रहा है। इस कारण धनु राशि और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के जातकों के जीवन पर इसका प्रभाव होगा। इसलिए धनु राशि और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के जातकों को सावधानियां बरतनी होगी।

साल 2019 का दूसरा सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2019)

साल 2019 का दूसरा ग्रहण (Surya Grahan 2019 Date and Time) 2 जुलाई 2019 को है। इस दिन मंगलवार का दिन है जो मिथुन राशि वालों के लिए अशुभ लक्षण दिखआ रहा है। आपको बता दें कि यह पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा। यह सूर्य ग्रहण रात्रि 11:31 बजे से 02:14 बजे तक होने वाला है। हालांकि साल 2019 का दूसरा सूर्य ग्रहण भी भारत में नहीं दिखाई देगा। ज्योतिष के अनुसार साल 2019 के दूसरे सूर्य ग्रहण का असर मिथनु राशि के जातकों पर पड़ेगा। साथ ही आद्रा नक्षत्र से संबंधित जातकों को भी सावधानी बरतनी होगी।

2019 का तीसरा सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2019)

साल 2019 का तीसरा सूर्य ग्रहण (Surya Grahan 2019 Date and Time) 26 दिसंबर 2019 को पड़ रहा है। यह सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा जो गुरुवार की सुबह 08:17 से 10:57 बजे तक रहेगा। साल का तीसरा सूर्य ग्रहण भारत सहित कई क्षेत्रों में दिखाई देगा। इसे नग्न आंखों से न देखें। इस सूर्य ग्रहण में सूतक काल भी लगेगा। ज्योतिष अनुसार इस सूर्य ग्रहण में धनु राशि के जातकों पर अशुभ असर रहेगा। वहीं मूल नक्षत्र वालों को भी सावधानी बरतनी होगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here