शिवराज सिंह चौहान जीते, कांग्रेस के अरुण यादव को हराया

39

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुदनी विधानसभा सीट से चुनाव जीत गए हैं। उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव को हराया। हाईप्रोफाइल सीट होने के कारण प्रदेशभर की निगाह इस सीट पर लगी हुई है।

मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को हुए मतदान के बाद 11 दिसंबर को प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो गया। इसमें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुदनी विधानसभा सीट से चुनाव जीत गए हैं। उन्होंने केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव को करीब 45393 वोटों से हराया।

 

कांग्रेस ने दिखाई थी ताकत
इससे पहले कांग्रेस ने बुदनी में रैली कर अपनी ताकत दिखाई थी। इसे देखकर माना जा रहा था कि मुख्यमंत्री के लिए इस सीट को बचा पाना मुश्किल होगा। लेकिन, शिवराज की परंपरागत सीट से उन्हें हराने में कांग्रेस सफल नहीं हो पाई।

पत्नी साधा सिंह को झेलना पड़ा था विरोध
इससे पहले चुनाव प्रचार के दौरान जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पत्नी चुनाव प्रचार करने के लिए बुदनी क्षेत्र में गई तो कुछ बस्तियों की महिलाओं ने उनका विरोध किया। इसका वीडियो भी कांग्रेस ने जमकर वायरल किया था। इससे माहौल भाजपा के खिलाफ भी बनने लगा था।

 

बेटे का भी हुआ था विरोध
इधर, शिवराज सिंह के बेटे कार्तिकेय भी अपने पिता के प्रचार के लिए जब विधानसभा क्षेत्रों में गए तो लोगों ने वहां की खराब सड़कें बताई और भरा हुआ पानी दिखाया। इसका भी वीडियो कांग्रेस ने काफी वायरल किया था।

दिनभर चले ये रुझान
रुझानों के मुताबिक राज्य में कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर है। हालांकि, किसी भी पार्टी को बहुमत मिलने के आसार नजर नहीं आ रहे थे। हालांकि शिवराज सरकार के कई मंत्री भी पीछे चल रहे थे। बुधनी सीट से निवर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 73797 वोट पाकर पहले नंबर पर हैं। कांग्रेस के अरुण यादव को 36288 वोट मिले। जबकि गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के रेवाराम सल्लम 3233 के साथ तीसरे नंबर पर हैं।

 

यह भी है खास
बीजेपी के लिए बुधनी सीट बहुत महत्वपूर्ण है। नर्मदा किनारे की इस सीट पर कांग्रेस इसे हथियाने की कोशिशों में लगी रही। लेकिन इस बार भी उसे निराशा ही हाथ लगी। कांग्रेस ने अरुण यादव को चुनावी मैदान में उतारा।
-2013 में हुए चुनाव में मुख्यमंत्री चौहान ने भारी मतों से जीत दर्ज की थी। उन्होंने कांग्रेस के महेंद्र सिंह चौहान को 84 हजार मतों के अंतर से हराया था।

-शिवराज एमपी में सबसे लंबे समय तक सीएम रहने वाले नेता
मप्र में भाजपा ने 2003, 2008 और 2013 का चुनाव जीता।

 

कौन कहां से जीता
बिजावर से सपा प्रत्याशी राजेश शुक्ला जीते
सीहोर से बीजेपी के सुदेश राय जीते
रतलाम सिटी से चेतन कश्यप चुनाव जीते
चितरंगी से बीजेपी के अमर सिंह जीते
रतलाम ग्रामीण भाजपा प्रत्याशी जीते
रतलाम ग्रामीण दिलीप मकवाना 5600 से जीते
सागर से बीजेपी के शैलेंद्र जैन जीते
नरयावली से बीजेपी प्रत्याशी प्रदीप लारिया जीते
छग के सीतापुर से कांग्रेस प्रत्याशी जीते
सीतापुर से कांग्रेस प्रत्याशी 30 हजार से जीते
सीतापुर कांग्रेस प्रत्याशी अमरजीत भगत जीते
इंदौर – 4 से मालिनी गौड़ ने जीत दर्ज की
छग के चित्रकोट से दीपक बैज
थांदला से कांग्रेस प्रत्याशी वीर सिंह भूरिया जीते
मल्हारगढ़ भाजपा प्रत्यासी जगदीश देवड़ा 11000 से जीते
छग के राजिम से कांग्रेस प्रत्याशी अमितेश शुक्ला जीते
जगदलपुर कांग्रेस के रेखचंद जैन 25682 से जीते
सेंधवा से कांग्रेस के ग्यारसीलाल रावत जीते
सेंधवा से बीजेपी के अंतरसिंह 16000 से हारे
बिछिया से कांग्रेस के नारायण सिंह पट्टा जीते
देपालपुर कांग्रेस के विशाल पटेल 9000 वोट से जीते
छग के सामरी से कांग्रेस के चितामणि महाराज जीते
चितामणि महाराज 23 हजार वोटों से जीते
अंबिकापुर टीएस सिंहदेव 33 हजार वोट से जीते
महाराजपुर से कांग्रेस प्रत्याशी नीरज दीक्षित जीते
भोपाल उत्तर से कांग्रेस के आरिफ अकील जीते
नीमच बीजेपी की दिलीप सिंह परिहार 15851 से जीते
मनासा भाजपा के अनिरुद्ध माधव 19330 वोटों से जीते
जावद भाजपा के ओमप्रकाश सकलेचा 3358 वोट
पंधाना से भाजपा प्रत्याशी राम दांगोरे जीते
इंदौर – 2 बीजेपी के रमेश मंदौला ने जीत दर्ज की
हरसूद विजय शाह 19 हजार वोट से जीते
बड़वानी बीजेपी प्रत्याशी प्रेम सिंह जीते
बस्तर कांग्रेस प्रत्याशी लखेश्वर बघेल जीते
हाटपीपल्या से मंत्री दीपक जोशी हारे
हाटपीपल्या से कांग्रेस के मनोज नारायण जीते
आलोट से कांग्रेस के मनोज चावला जीते
लुन्ड्रा से कांग्रेस के प्रीतम राम 14000 से जीते
संजाारी बालोद से कांग्रेस की संगीता जीतीं
कोंटा कांग्रेस के कवासी लखमा 6790 से जीते
नरसिंहगढ़ BJP के राज्यवर्धन 9534 से जीते
कटघोरा कांग्रेस प्रत्याशी पुरुषोत्तम कवर जीते
बीजापुर से मंत्री महेश गागड़ा हारे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here