मुबई के सायन हॉस्पिटल में 40 सर्जरी रद्द, साफ कपड़े नहीं होने का दिया गया हवाला

45

मुंबई: अब तक आपने अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी या फिर हड़ताल के चलते इलाज में देरी होने को लेकर सुना होगा. लेकिन मुंबई के एक सरकारी अस्पताल के बारे में बताने जा रहा हूं. इस अस्पताल में 40 मरीजों का सर्जरी इसलिए  रद्द कर दिया गया कि अस्पताल में साफ कपड़े नही थे. मामला मुंबई के सायन अस्पताल का है. इस अस्पताल में सोमवार को 40 मरीजों का सर्जरी होना था. लेकिन सर्जरी के दौरान इस्तेमाल में आने वाले साफ कपडे मौजूद नहीं होने के चलते मरीजों का सर्जरी रद्द करना पड़ा.

खबरों की माने तो मुंबई के सायन अस्पताल में कपड़ों के धुलाई के लिए दो लॉन्ड्री में भेजे जाते है. जिसमें  एक प्राइवेट लॉन्ड्री है. वहीं दूसरी सेंट्रल लॉन्ड्री ऑफ कॉर्पोरेशन है. प्राइवेट लॉन्ड्री के बारे में मालूम पड़ा है इसका कॉन्ट्रैक्ट जून 2018 में ख़त्म हो चुका है. लेकिन अस्पताल की तरह से उसका कॉन्ट्रैक्ट ना तो रिन्यू किया गया और न ही नए कॉन्ट्रैक्ट के लिए कोई टेंडर पास किया गया.

वहीं अस्पताल में  साफ़ कपडे नहीं होने से मरीजों के सर्जरी को रद्द किये जाने के बाद मामला तूल पकड़ने के बाद अस्पताल की तरह से सफाई आई है. अस्पताल का इस पूरे मामले में कहना है कि सेंट्रल लॉन्ड्री  सार्वजनिक अवकाश की वजह से बंद थी. इसलिए साफ़ कपडे अस्पताल को  मुहैया नही हो पाया. लेकिन सर्जरी के लिए जल्द ही साफ़ कपड़ों को मुहैया करवा दिया जाएगा.

गौरतलब हो कि इस पुरे मामले में अस्पताल भले ही कोई सफाई दे लेकिन  सवाल उठता है कि करोड़ों रुपये मुंबई महानगरपालिका इन अस्पतालों पर  आम जनता के इलाज के लिए पैसे खर्च करती है. ऐसे में यदि आज जनता के इलाज को लेकर इस तरह से लापरवाही बरती जा रही है. जो चिंता का विषय है .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here