2 लाख घरों में पहुंचेगी PNG रसोई गैस, IGL घर आकर लगाएगी कनेक्शन

53

नई दिल्ली: गैस आधारित अर्थव्यवस्था विकसित करने के सरकार के लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में अपने प्रयासों के तेज करते हुए भारत की सबसे बड़ी गैस आपूर्तिकर्ता कंपनी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष में रिकॉर्ड 60 सीएनजी स्टेशन लगाने और दो लाख घरों में रसोई गैस का कनेक्शन देने की योजना बनाई है. आईजीएल के प्रबंध निदेशक ई एस रंगनाथन ने कहा कि कंपनी ने नेटवर्क में तेजी से विस्तार के लिए डीलर-फ्रेंचाइज मॉडल को अपनाया है.
IGL देगी फ्रेंचाइजी
कंपनी के दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और रेवाड़ी में 452 सीएनजी स्टेशन हैं. आईजीएल ने ऐसे डीलरों को फ्रेंचाइजी देने की शुरुआत की है, जिनके पास अपनी जमीन है. रंगनाथन ने कहा, “हमारे पास पहले से डीलर आधारित व्यवस्था के तहत काम करने वाले दो सीएनजी स्टेशन हैं. हमने 21 अन्य के लिए आशय पत्र आमंत्रित किए हैं और उन्हें वर्तमान वित्त वर्ष में शुरू कर दिया जाएगा.”
60 CNG स्टेशन खोलने का लक्ष्य
उन्होंने बताया कि कंपनी ने पिछले साल 30 सीएनजी स्टेशन खोले हैं और चालू वित्त वर्ष में वह 50 स्टेशन और खोलने का लक्ष्य लेकर चल रही है. ‘‘लक्ष्य हालांकि 50 का है लेकिन हमें विश्वास है कि हम 60 स्टेशन खोल लेंगे.’’
तीन लाख रसोई गैस ग्राहक जोड़ने का लक्ष्य
रंगनाथन ने कहा कि कंपनी 9.6 लाख पाइप रसोई गैस के ग्राहक हैं. इस वित्त वर्ष में इसमें तीन लाख और ग्राहकों को जोड़ने का लक्ष्य है. 2020 तक कंपनी का लक्ष्य 1 करोड़ पीएनजी कनेक्शन देना का है.
पिछले साल किया था 600 करोड़ निवेश
‘‘आईजीएल ने 2017-18 में परिचालन के विस्तार के लिए 600 करोड़ रुपए का निवेश किया था.’’ कंपनी ने 2016-17 में 81 नए सीएनजी स्टेशन जोड़े थे. इसके साथ उसके सीएनजी स्टेशन की संख्या 421 पहुंच गई थी. कंपनी ने 2016-17 में 1,05,000 नए घरेलू पीएनजी ग्राहक जोड़े. बयान के अनुसार कंपनी के शेयरधारकों ने सालाना आम बैठक में 50 प्रतिशत अंतिम लाभांश की मंजूरी दी. यह 35 प्रतिशत अंतरिम लाभांश के अलावा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here