शशि थरूर के बयान पर जावड़ेकर का पलटवार, राहुल गांधी से की माफी मांगने की मांग

19

नई दिल्ली। चुनावी मौसम में भाजपा और कांग्रेसी नेताओं के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। कांग्रेसी नेता शशि थरूर के द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि यह कांग्रेस की मानसिकता को दर्शाता है। बता दें कि थरूर ने बंगलूरु लिटरेचर फेस्टिवल में इस बात का दावा किया था ने आरएसएस के नेता ने पीएम के बारे में कहा कि ‘‘वे शिवलिंग पर बैठे ऐसे बिच्छू हैं जिन्हें न तो हटाया जा सकता है और न ही चप्पल से मारा जा सकता है’’। हालांकि रविशंकर प्रसाद ने इसकी आलोचना करते हुए राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग की है। इसके बाद भाजपा नेता जावड़ेकर ने कांग्रेस को पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी का ‘बिच्छू’ वाली टिप्पणी याद दिलाई।

गौरतलब है कि अगले महीने ही 5 राज्यों में चुनाव होने वाले हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर परोक्ष रूप से नक्सलियों का समर्थन करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में अगले महीने विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं और इसके साथ ही नक्सलियों का भी अंत होने वाला है। जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री को लेकर कांग्रेस नेताओं के द्वारा दिया जाने वाला बयान उनकी मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि 1984 में राजीव गांधी ने भी विपक्ष की तुलना बिच्छू से की थी।

यहां बता दें कि कांग्रेस के नेता शशि थरूर ने इस बात का दावा किया था कि आरएसएस और भाजपा के बीच कुछ ठीक नहीं चल रहा है। आरएसएस के नेता ही पीएम की आलोचना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरएसएस नेता ने किसी पत्रकार से कहा कि पीएम मोदी शिवलिंग पर बैठे हुए एक ऐसे बिच्छू हैं जिसे न तो हटाया जा सकता है और न ही चप्पल से मारा जा सकता है। इस बयान पर टिप्पणी करते हुए प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस पीएम मोदी का मुकाबला नहीं कर सकती है तो बयानबाजी पर उतर आई है। भाजपा के वरिष्ठ नेता रवि शंकर प्रसाद ने थरूर के इस बयान की निंदा करते हुए आरोप लगाया कि थरूर ने भगवान शिव का अपमान किया है और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here