कई तरह की बीमारियों से बचने के लिए पानी एक बेहतरीन इलाज होता है। तमाम हेल्थ एक्सपर्ट्स दिन भर में 2.5-3 लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं। इससे शरीर में मौजूद हानिकारक विषाक्त तत्व बाहर निकल जाते हैं। शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए भी पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी होता है।

एक्सपर्ट्स का मानना है कि पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से किडनी की सेहत भी बेहतर बनी रहती है। लेकिन बहुत ज्यादा मात्रा में पानी पीना सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है। डॉक्टर्स बताते हैं कि ज्यादा मात्रा में पानी पीने से दिल की मांस-पेशियों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे ब्लड प्रेशर में भी कमी आती है।

पानी ज्यादा पीने के नुकसान :

1.बहुत ज्यादा मात्रा में पानी पीने से शरीर में फ्लूड्स का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे शरीर में सोडियम की कमी हो सकती है और मितली, उल्टी, थकान आदि समस्याएं हो सकती हैं।

2.सिरदर्द, डिहाइड्रेशन और ओवर हाइड्रेशन दोनों का लक्षण होता है। जब आप बहुत ज्यादा पानी पी लेते हैं तो इससे शरीर में नमक की मात्रा में कमी आ जाती है। इस वजह से शरीर में दर्द शुरू हो जाता है। इसके साथ ही बहुत ज्यादा मात्रा में पानी पीने से आपको थकान की समस्या भी हो सकती है,क्योंकि ज्यादा पानी पीने से किडनी को अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है,जिससे हार्मोंस पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

3. जब आप ज्यादा पानी पीते हैं तो आपके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स लेवल कम हो जाता है। इससे मांसपेशियों में दर्द होना शुरू हो जाता है।

4.ज्यादा पानी पीने से शरीर में पोटैशियम की कमी हो जाती है। इससे पैरों में दर्द, छाती में दर्द और इरिटेशन जैसी समस्याएं होती हैं।

5.जब आप सामान्य से ज्यादा पानी पीते हैं तो इससे बार-बार पेशाब लगती है। इस वजह से काफी मात्रा में हमारे शरीर के फ्लूड्स बाहर निकल जाते हैं और उनके पोषक तत्वों को शरीर अवशोषित नहीं कर पाता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here