राष्ट्रीय राजनीति में होगी शिवराज की एंट्री, विजयवर्गीय को मिलेगी MP की कमान

24

इस साल के आखिर में मध्य प्रदेश के विधान सभा और अगले साल लोकसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में दोनों चुनावों में भाजपा के लिए जीत हासिल करना बड़ी चुनौती है। मध्य प्रदेश में भाजपा शिवराज सिंह चौहान और लोकसभा में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनावी समर में उतरेगी। यह तो स्पष्ट है कि अगर भाजपा मध्य प्रदेश में जीतती है तो शिवराज ही CM बनेंगे। मगर, लोकसभा में भाजपा की वापसी होती है तो शिवराज को राष्ट्रीय राजनीति में बुलाया जा सकता है।

ऐसा इसलिए होगा क्योंकि सुषमा स्वराज, अरुण जेटली जैसे दिग्गज भाजपाई नेता अपनी खराब स्वास्थ्य की वजह से सरकार में शामिल नहीं होंगे। ऐसे में भाजपा को राजनाथ सिंह के अलावा ऐसे नेताओं की जरूरत होगी जिनके पास अनुभव के साथ साथ जनाधार भी हो।

शिवराज सिंह चौहान पिछले 13 सालों से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं और जनता के बीच उनकी पकड़ काफी अच्छी है जिसको लेकर भाजपा केंद्र में अपनी अलग राजनीति कर रही है। पर सवाल यह उठता अगर शिवराज राष्ट्रीय राजनीति में जाते हैं तो मध्य प्रदेश को कौन संभालेगा। ऐसे में भाजपा आलाकमान की पहली पसंद कैलाश विजयवर्गीय हो सकते हैं। कैलाश विजयवर्गीय के अलावा नरेंद्र सिंह तोमर, नरोत्तम मिश्र और राकेश सिंह भी इस रेस में हैं।
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा आने वाले चुनाव की तैयारी कर रही है। शिवराज खुद जन आशीर्वाद यात्रा निकाल कर ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में भाजपा को सत्ता में वापसी करना शिवराज सिंह चौहान के ऊपर है। सत्ता में वापसी करने पर शिवराज सिंह चौहान का कद राष्ट्रीय राजनीति में और बढ़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here