बिहार में महागठबंधन का एलान,उपेन्द्र कुशवाहा महागठबंधन में शामिल हुए

20

नई दिल्ली: तीन राज्यों में मिली जीत के बाद कांग्रेस का आत्मविश्वास चरम पर है और इस बात की झलक अब देखने को भी मिल रही है। कुछ समय पहले एनडीए से अलग होने वाले राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (आरएलएसपी) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने यूपीए नीत महागठबंधन का हाथ थाम लिया है। दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर उन्होंने यूपीए का दामन थामा। बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा कि यह गठबंधन बिहार और देशहित में हुआ है।

गठबंधन में कांग्रेस के अलावा जीतनराम मांझी की हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम), उपेंद्र कुशवाहा की आरएलएसपी, लालू प्रसाद यादव की आरजेडी शामिल हैं। गठबंधन का ऐलान करते हुए बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि यह गठबंधन देशहित में हुआ है। तेजस्वी ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा जी का मृहागठबंधन में स्वागत है।

तेजस्वी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी लग गई है और यह देश तथा संविधान को बचाने की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने घटक दलों के साथ तानाशाही की है। नीतीश कुमार को निशाने पर लेते हुए तेजस्वी ने कहा कि उन्होंने जनादेश का अपमान किया है।

मीडिया से बात करते हुए कुशवाहा ने कहा कि एनडीए में मेरा अपमान हुआ। यहीं नहीं केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मोदी जी की कथनी और करनी में अंतर है। महागठबंधन में शामिल होने पर जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि यूपीए में मेरा दिल खोलकर स्वागत हुआ है। राहुल गांधी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि राहुल ने जो कहा वो कर के दिखाया।

इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) नेता शरद यादव, राजद नेता तेजस्वी यादव और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मौजूद थे। कुशवाहा ने कुछ दिन पहले ही अहमद पटेल से मुलाकात की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here